जलवायु परिवर्तन से लड़ने के लिए जेफ बेजोस देंगे 10 अरब डॉलर

Last Updated: बुधवार, 19 फ़रवरी 2020 (10:50 IST)
कार्बन फुटप्रिंट की भारी मात्रा वाली कंपनी के मालिक ने घोषणा की है कि वे से लड़ने के लिए 10 अरब डॉलर की धनराशि देंगे। अमेजन के संस्थापक जेफ बेजोस ने घोषणा की है कि वे जलवायु परिवर्तन से लड़ने के लिए अपनी निजी संपत्ति में से 10 अरब डॉलर की धनराशि देंगे।
ALSO READ:
के मुद्दे पर अमेजन के कर्मचारियों ने खोला कंपनी के खिलाफ ही मोर्चा
दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति जेफ बेजोस ने पर एक में कहा कि आने वाले गर्मियों के मौसम से पृथ्वी को बचाने के लिए कार्यरत वैज्ञानिकों, सामाजिक कार्यकर्ताओं और गैरलाभकारी संगठनों को अनुदान देना शुरू कर देंगे।
उन्होंने अपनी पोस्ट में कहा कि मैं जलवायु परिवर्तन के विध्वंसकारी प्रभाव से लड़ने के ज्ञात तरीकों पर बल देने के लिए और नए तरीकों को खोजने के लिए औरों के साथ काम करना चाहता हूं।
बेजोस की कंपनी अमेजन का कार्बन फुटप्रिंट बहुत बड़ा है। पिछले साल अमेजन के अधिकारियों ने कहा था कि कंपनी कोशिश करेगी कि वो जितनी ऊर्जा की खपत करती है, वो 2030 तक 100 प्रतिशत सोलर पैनल और दूसरे दोबारा इस्तेमाल होने वाले ऊर्जा के स्रोतों से आए।
अमेजन पूरी दुनिया में अरबों का सामान भेजता है और इसके लिए वो जीवाश्म ईंधन से चलने वाली गाड़ियों, ट्रक और हवाई जहाजों पर निर्भर है। सीएटल में कंपनी के मुख्यालय में कई कर्मचारियों ने कंपनी की कार्यप्रणाली के कुछ हिस्सों की मुखर रूप से आलोचना की है जिसकी वजह से कंपनी को जलवायु परिवर्तन से लड़ने के लिए कई कदम उठाने पड़े हैं।
बेजोस ने अपनी इंस्टाग्राम पोस्ट में कहा कि उन्होंने अपनी नई पहल का नाम रखा है बेजोस अर्थ फंड। अमेजन के एक प्रवक्ता ने पुष्टि की है कि बेजोस इस फंड के लिए अपनी निजी संपत्ति का ही इस्तेमाल करेंगे।

दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति होने के बावजूद बेजोस ने बिल गेट्स और वॉरेन बफेट जैसे दूसरे अरबपतियों की तरह अलग-अलग उद्देश्यों के लिए पैसे दान देना हाल ही में शुरू किया है। 2018 में उन्होंने एक और फंड की स्थापना की थी जिसके तहत उन्होंने अपनी निजी संपत्ति में से 2 अरब डॉलर की धनराशि कम आय वाले इलाकों में प्रीस्कूल खोलने के लिए और बेघर परिवारों की मदद करने वाली गैरलाभकारी संगठनों को दान देने के लिए दी थी।
बेजोस ने अमेजन की स्थापना 25 साल पहले की थी और आज उनकी कंपनी में उनके शेयरों की कीमत 100 अरब डॉलर से भी ज्यादा है।

सीके/एनआर(एपी)


और भी पढ़ें :