दुनिया में किस धर्म के कितने लोग हैं?

पुनः संशोधित शुक्रवार, 7 अप्रैल 2017 (14:47 IST)
दुनिया में दस में से आठ लोग किसी ना किसी धार्मिक समुदाय का हिस्सा हैं। एडहेरेंट्स.कॉम वेबसाइट और पियू रिसर्च के अनुमानों से झलक मिलती हैं कि दुनिया के सात अरब से ज्यादा लोगों में कितने कौन से को मानते हैं।
: दुनिया में सबसे ज्यादा आबादी ईसाइयों की है। विश्व आबादी में उनकी हिस्सेदारी 31.5 प्रतिशत और आबादी लगभग 2.2 अरब है।

मुसलमान : इस्लाम दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा धर्म है, जिसे मानने वालों की आबादी 1.6 अरब मानी जाती है। विश्व आबादी में उनकी हिस्सेदारी 1.6 अरब है।

धर्मनिरपेक्ष/नास्तिक : जो लोग किसी धर्म में विश्वास नहीं रखते, उनकी आबादी 15.35 प्रतिशत है। संख्या के हिसाब यह आंकड़ा 1.1 अरब के आसपास है।
हिंदू : लगभग एक अरब आबादी के साथ हिंदू दुनिया में तीसरा बड़ा धार्मिक समुदाय है। पूरी दुनिया में 13.95 प्रतिशत हिंदू हैं।

चीनी पारंपरिक धर्म : के पारंपरिक धर्म को मानने वाले लोगों की संख्या 39.4 करोड़ है और दुनिया की आबादी में उनकी हिस्सेदारी 5.5 प्रतिशत है।

धर्म : दुनिया भर में 37.6 करोड़ लोग बौद्ध धर्म को मानते हैं। यानी दुनिया में 5.25 प्रतिशत लोग भारत में जन्मे बौद्ध धर्म का अनुकरण कर रहे हैं।
जातीय धार्मिक समूह/अफ्रीकी पारंपरिक धर्म : इस समूह में अलग अलग जातीय धार्मिक समुदायों को रखा गया है। विश्व आबादी में 5.59 प्रतिशत हिस्सेदारी के साथ इनकी संख्या 40 करोड़ के आसपास है।

: अपनी रंग बिरंगी संस्कृति के लिए दुनिया भर में मशहूर सिखों की आबादी दुनिया में 2.3 करोड़ के आसपास है।
यहूदी : यहूदियों की संख्या दुनिया भर में 1.4 करोड़ के आसपास है। दुनिया की आबादी में उनकी हिस्सेदारी सिर्फ 0.20 प्रतिशत है।

धर्म : मुख्य रूप से भारत में प्रचलित जैन धर्म के मानने वालों की संख्या 42 लाख के आसपास है।

शिंटो : यह धर्म जापान में पाया जाता है, हालांकि इसे मानने वालों की संख्या सिर्फ 40 लाख के आसपास है।


और भी पढ़ें :