1. खेल-संसार
  2. क्रिकेट
  3. समाचार
  4. Virender Sehwag takes a dig at downhill of Indian Cricket
Written By
Last Updated: गुरुवार, 8 दिसंबर 2022 (19:54 IST)

क्रिप्टोस से भी तेज गिर रही है टीम इंडिया, वीरेंद्र सहवाग ने कसा तंज

बांग्लादेश के हाथों वनडे श्रृंखला में मिली हार के बाद पूर्व क्रिकेटरों वीरेंद्र सहवाग और वेंकटेश प्रसाद ने भारतीय टीम की ‘पुरानी’ रणनीति पर नाराजगी जताई है।

पूर्व तेज गेंदबाज वेंकटेश प्रसाद ने कहा कि टीम प्रबंधन को कठिन फैसले लेने होंगे जबकि सहवाग ने रोहित शर्मा की टीम से ‘जागने’ के लिये कहा ।अपने चिर परिचित अंदाज में सहवाग ने ट्वीट किया ,‘‘ क्रिप्टोस से भी तेज गिर रही है अपनी परफॉर्मेंस यार ’। जागने की जरूरत है।’’
इससे पहले वर्षाबाधित वनडे श्रृंखला में भारत को न्यूजीलैंड ने 1 . 0 से हराया था।भारतीय टीम ने 2013 के बाद से आईसीसी का कोई खिताब नहीं जीता है।प्रसाद ने सिलसिलेवार ट्वीट में कहा ,‘‘ दुनिया भर में भारत इतने क्षेत्रों में नयी पहल कर रहा है लेकिन सीमित ओवरों के क्रिकेट में हमारी रणनीति बरसों पुरानी है।’
उन्होंने कहा ,‘‘ इंग्लैंड ने 2015 विश्व कप में पहले दौर से बाहर होने के बाद कठिन फैसले लिये और आज इतनी शानदार टीम बन गई है। भारत को भी कड़े फैसले लेने होंगे और सोच बदलनी होगी। आईपीएल शुरू होने के बाद से हम एक भी टी20 विश्व कप नहीं जीत सके और पिछले पांच साल में बेमानी द्विपक्षीय श्रृंखलायें जीतने के सिवाय वनडे में भी कुछ खास नहीं किया है।’’उन्होंने कहा ,‘‘ लंबे समय से अपनी गलतियों से सबक नहीं लिया है और वनडे क्रिकेट में कुछ खास नहीं कर पा रहे। बदलाव जरूरी है।’’
इसके अलावा इरफान पठान ने बांग्लादेश की तारीफ की और कहा कि 69 पर 6 से 272 रनों तक का सफर शानदार रहा। हार के बाद उन्होंने रोहित शर्मा के अर्धशतक को भी सराहा।
इसके अलावा वसीम जाफर ने भी बांग्लादेश क्रिकेट टीम को वनडे सीरीज जीत की बधाई दी।

इस भारतीय टीम में कोई जोश और जुनून नहीं: मदनलाल

पूर्व कोच मदनलाल ने बांग्लादेश के खिलाफ वनडे श्रृंखला में मिली हार के लिये गुरूवार को भारत की आलोचना करते हुए कहा कि टीम में जज्बे और जुनून की कमी थी।

भारत बुधवार को दूसरे वनडे में पांच रन से हारकर तीन मैचों की वनडे श्रृंखला गंवा बैठा। पहले वनडे में बांग्लादेश ने एक विकेट से जीत दर्ज की थी।

मदनलाल ने एक साक्षात्कार में कहा, ‘‘निश्चित रूप से यह भारतीय टीम सही दिशा में आगे नहीं बढ़ रही। मैंने पिछले कुछ समय में टीम में वो जज्बा नहीं देखा। मैंने पिछले दो वर्षों में उनमें ‘जोश’ नहीं देखा। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘वे भारतीय टीम की तरह बिलकुल भी नहीं लग रहे थे। देश के लिये खेलने के जुनून की कमी थी। या तो वे बहुत थके हुए थे या फिर वे बस लय में बह रहे थे। यह गंभीर चिंता का विषय है। ’’

इस साल चोटों से जूझने वाले दीपक चाहर दूसरे वनडे में अपने कोटे के ओवर भी नहीं डाल सके। भारतीय टीम फिटनेस संबंधित मुद्दों से जूझ रही है जिसमें स्टार तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह और आल राउंडर रविंद्र जडेजा भी चोट के कारण टीम से बाहर हैं।खिलाड़ियों के फिटनेस मुद्दों की ओर इशारा करते हुए कप्तान रोहित शर्मा ने बुधवार को कहा था कि भारत देश के लिये आधे फिट खिलाड़ियों को नहीं खिला सकता।

मदनलाल ने कहा कि अगर कप्तान यह कह रहा है तो कहीं न कहीं कुछ गलत है।उन्होंने कहा, ‘‘इसके लिये कौन जिम्मेदार है? क्या इसके लिये ट्रेनर जिम्मेदार हैं? अनफिट खिलाड़ी क्यों जा रहे हैं? आप अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेल रहे हो और नतीजा आपके सामने है। ’’