बुमराह से लेकर कोहली तक, पूरी टीम इंडिया का होगा हेडिंग्ले में डेब्यू

Last Updated: सोमवार, 23 अगस्त 2021 (11:02 IST)
लीड्स: विराटकोहली की अगुआई में टीम इंडिया मेजबान इंग्‍लैंड के खिलाफ तीसरे टेस्‍ट मैच के लिए पहुंच गई है।भारतीय टीम ने हेडिंग्ले के नेट्स पर अभ्‍यास शुरू कर दिया। पहले दिन अभ्‍यास सत्र में सभी शीर्ष खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया। 5 मैचों की सीरीज के तीसरे टेस्ट के लिए लीड्स पहुंचने के बाद टीम ने एक पल का भी आराम नहीं किया और तुरंत बाद अभ्यास शुरू किया।

लॉर्ड्स में दूसरे टेस्ट में 151 रन की जीत के साथ सीरीज में 1-0 से आगे चल रहा है। पहला मैच बारिश के कारण ड्रॉ हो गया था। कप्तान विराट कोहली, उप कप्तान अजिंक्य रहाणे और सीनियर सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा (Rohit Sharma) से लेकर जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी की तेज गेंदबाजी जोड़ी के अलावा रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा की स्पिन जोड़ी ने नेट्स पर पसीना बहाया।
कोहली सहित पूरी टीम का डेब्‍यू

विकेटकीपर ऋषभ पंत ने भी अभ्यास सत्र में हिस्सा लिया। कोहली की नजरें लीड्स टेस्ट में जीत के साथ सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त लेने पर टिकी हैं। कोहली सहित पूरी टीम इंडिया 25 अगस्‍त को हेडिंग्‍ले टेस्‍ट में डेब्‍यू करेगी। हर किसी के लिए ये मुकाबला काफी खास होगा। इस मैदान पर सभी खिलाड़ी नए होंगे।

भारत ने हेडिंग्ले में पिछला टेस्ट 2002 में खेला था और मौजूदा टीम के किसी खिलाड़ी को इस मैदान पर टेस्ट खेलने का अनुभव नहीं है।तीसरा टेस्ट बुधवार से शुरू होगा।भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) ने टीम के यहां पहुंचने पर ट्वीट किया कि लीड्स के हेडिंग्ले स्टेडियम में आपका स्वागत है। के खिलाफ तीसरे टेस्ट का आयोजन स्थल।


2002 के टेस्ट में यह हुआ था

साल 2002 के टेस्ट में भारत ने टॉस जीतकर बहुत ही बहादुरी दिखाते हुए पहले बल्लेबाजी का निर्णय लिया था। इससे पहले लॉर्ड्स टेस्ट भारत हार चुका था। लेकिन हरी पिच पर भारत को बल्लेबाजी करने से कोई गुरेज नहीं था।


ऐसा प्रतीत हो रहा था कि भारतीय बल्लेबाज किसी एशियाई पिच पर खेल रहे हैं। भारतीय बल्लेबाजी क्रम की त्रिमूर्ति सचिन तेंदुलकर (193) ,राहुल द्रविड़(148) और सौरव गांगुली (128) तीनों के ही शतक के बदौलत भारत ने 8 विकेट पर 628 रन बनाकर पारी घोषित कर दी थी।

इसके बाद इंग्लैंड की पहली पारी 273 रनों पर सिमट गई और कप्तान सौरव गांगुली ने इंग्लैंड को फॉलोऑन खिलाया। इसके बाद इंग्लैंड की दूसरी पारी भी 309 रनों पर सिमट गई। भारत यह मैच पारी और 46 रनों से जीतने में कामयाब हुआ था।



और भी पढ़ें :