टी-20 में शतक लगाने वाला अकेला बांग्लादेशी स्टार बल्लेबाज टी-20 विश्वकप 2022 से भी हुआ बाहर

पुनः संशोधित शुक्रवार, 28 जनवरी 2022 (14:57 IST)
हमें फॉलो करें
ढाका: के दिग्गज सलामी बल्लेबाज़ ने ख़ुद को अगले छह महीने के लिए टी20 अंतर्राष्ट्रीय से अनुपलब्ध बताया है। यानि वह इस साल होने वाले से भी बाहर हो गए हैं। हालांकि तमीम ने यह भी कहा कि अगर टी20 विश्वकप से पहले बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) उनसे पूछेगा तो वह इस पर एक बार फिर विचार कर सकते हैं।

बीसीबी के कुछ आलाधिकारियों और अध्यक्ष नज़मुल हसन ने तमीम के साथ बातचीत की थी और कोशिश की थी कि वह अपने इस फ़ैसले पर दोबारा विचार करें, लेकिन तमीम अपने फ़ैसले पर क़ायम हें। पिछले 12 महीनों में से ज़्यादातर समय तमीम बांग्लादेश की टी20 अंतर्राष्ट्रीय टीम का हिस्सा नहीं रहे हैं।

चट्टोग्राम में गुरुवार को मीडिया से मुख़ातिब होते हुए तमीम ने कहा कि ये फ़ैसला उन्होंने वनडे और टेस्ट को ध्यान में रखते हुए लिया है। साथ ही उन्होंने कहा कि अगर इस फ़ैसले का असर टीम के ख़िलाफ़ पड़ता है तो वह इस पर दोबारा विचार कर सकते हैं।

ALSO READ:

दो फेज में होगी रणजी ट्रॉफी, IPL 2022 के कारण BCCI ने लिया फैसला

तमीम ने कहा ,"टी20 अंतर्राष्ट्रीय में मेरे भविष्य को लेकर पिछले कई दिनों से बीसीबी के अध्यक्ष नज़मुल हसन, जलाल भाई और काज़ी इनाम के साथ मेरी बातचीत हुई है। वे सभी चाहते हैं कि मैं इस साल होने वाले टी20 विश्वकप तक खेलता रहूं, लेकिन मेरी सोच उनसे अलग है। मैं अगले छह महीने तक टी20 अंतर्राष्ट्रीय पर ध्यान नहीं देना चाहता, मैं पूरी तरह से वनडे और टेस्ट पर फ़ोकस करना चाहता हूं। हम अगले साल होने वाले वनडे विश्वकप और विश्व टेस्ट चैंपियनशिप की तैयारी कर रहे हैं, लिहाज़ा अगले छह महीने तक मेरा ध्यान टी20 क्रिकेट पर नहीं है। लेकिन अगर मेरे इस फ़ैसले से टीम को नुक़सान होता है तो फिर मैं इस पर दोबारा विचार करने के लिए तैयार हूं।"

टी-20 विश्वकप 2021 से लिया था नाम वापस

पिछले साल हुए टी20 विश्वकप से ठीक पहले तमीम ने अपना नाम वापस ले लिया था, वह चाहते थे कि उनकी जगह सौम्य सरकार, मोहम्मद नईम और लिटन दास जैसे युवा खिलाड़ियों के ऊपर सलामी बल्लेबाज़ी की ज़िम्मेदारी हो।

हालांकि उनकी गैरमौजूदगी टीम को काफी अखरी। बांग्लादेश पहला ही मैच स्कॉटलैंड जैसी टीम से क्वालिफायिंग राउंड में हार बैठी। बमुश्किल बांग्लादेश ग्रुप स्टेज तक पहुंची।

हालांकि ग्रुप स्टेज में पहुंचकर उसकी हालत बेहद नाजुक हो गई। उसको सभी टीमों से हार का सामना करना पड़ा। इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया, वेस्टइंडीज, श्रीलंका, दक्षिण अफ्रीका सभी ने बांग्लादेश को धूल चटाई।

उन्होंने आख़िरी बार बांग्लादेश के लिए टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैच पिछले साल ज़िम्बाब्वे के ख़िलाफ़ खेला था, हालांकि उस दौरान घुटने में चोट की वजह से वह उस सीरीज़ में आगे नहीं खेल पाए थे।

बांग्लादेश की ओर से बनाया है एकमात्र टी-20 शतक

टी20 अंतर्राष्ट्रीय में तमीम बांग्लादेश की ओर से तीसरे सबसे ज़्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज़ हैं, उनके नाम 24.08 की औसत से 1758 रन हैं। इस प्रारूप में वह शतक लगाने वाले एकमात्र बांग्लादेशी हैं। 2018 के आख़िर तक तमीम टी20 अंतर्राष्ट्रीय में भी टीम के अहम सदस्य थे, तब तक उन्होंने बांग्लादेश के कुल मैचों का 89.3 फ़ीसदी मुक़ाबले खेले थे। लेकिन पिछले तीन सालों में तमीम ने बांग्लादेश के लिए सिर्फ़ तीन मैच खेले हैं जबकि इस दौरान बांग्लादेश ने कुल 38 टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैच खेले हैं।

हालांकि तमीम ने ये साफ़ किया कि वह घरेलू टी20 लीग खेलते रहेंगे, उन्होंने बांग्लादेश प्रीमियर लीग (बीपीएल) के इस सीज़न में अपनी टीम मिनिस्टर ग्रुप ढाका के लिए अब तक दो अर्धशतक भी लगाए हैं।



और भी पढ़ें :