धवन और गिल के अर्धशतकों से भारत ने जिम्बाब्वे को पहले वनडे में 10 विकेटों से रौंदा

Last Updated: गुरुवार, 18 अगस्त 2022 (19:06 IST)
हमें फॉलो करें
सलामी बल्लेबाज और की शानदार बल्लेबाजी के कारण भारत ने जिम्बाब्वे को 10 विकेटों से हरा दिया। कप्तान केएल राहुल ने सलामी बल्लेबाजी ना करते हुए चौथे स्थान पर आना पसंद किया था लेकिन उनकी बल्लेबाजी की जरुरत ही नहीं पड़ी। जिम्बाब्वे ने भारत के खिलाफ 40.3 ओवरों में 189 रन बनाए, इसके जवाब में भारत ने बिना कोई विकेट खोए 192 रन 30.5 ओवर में बना लिए।



भारत के यह दोनों बल्लेबाज लंबे अंतराल से शतक को तरस रहे थे। हालांकि शतक का इंतजार तो पूरा नहीं हुआ लेकिन दोनों ने 80 से ज्यादा रन बनाए। जिंबाब्वे के 190 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत ने गिल (72 गेंद में नाबाद 82, 10 चौके, एक छक्का) और धवन (113 गेंद में नाबाद 81, नौ चौके) के बीच अटूट शतकीय साझेदारी से 19.1 ओवर शेष रहते बिना विकेट खोए 192 रन बनाकर जीत दर्ज की।

लक्ष्य का पीछा करने उतरे भारत को धवन और गिल की जोड़ी ने सतर्क शुरुआत दिलाई। धवन ने एनगारवा की पहली दो गेंदों पर चौके के साथ खाता खोला।

भारत ने शुरुआती 10 ओवर में बिना विकेट खोए 43 रन बनाए। धवन को 32 रन के स्कोर पर सीन विलियम्स की गेंद पर जीवनदान मिला जब क्षेत्ररक्षक ने उनका कैच टपका दिया।

गिल ने इवान्स पर तीन चौकों के साथ तेवर दिखाए।धवन ने विलियम्स की गेंद पर एक रन के साथ 76 गेंद में अर्धशतक पूरा किया और फिर सिकंदर रजा पर चौके के साथ 20वें ओवर में टीम का स्कोर 100 रन के पार पहुंचाया।

गिल ने रेयान बर्ल पर लगातार दो चौकों के साथ 51 गेंद में करियर का तीसरा अर्धशतक पूरा किया। उन्होंने वेस्ली माधेवेरे की लगातार गेंदों पर चौके और छक्के के साथ 26वें ओवर में टीम के 150 रन पूरे किए।गिल ने नगारवा पर तीन चौके जड़े जबकि धवन ने इवान्स पर चौके के साथ 31वें ओवर में ही भारत को जीत दिला दी।

इससे पहले जिम्बाब्वे ने ब्रैड इवान्स (32) और रिचर्ड एंगरावा (34) की जुझारू पारियों की बदौलत भारत को पहले एकदिवसीय मैच में गुरुवार को 190 रन का लक्ष्य दिया।
Koo App
A brilliant opening partnership by Dhawan & Gill. won the first ODI by 10 wickets. #ZIMvIND #CricketOnKoo @shubhmangill #ShikharDhawan - Jaskaran singh (@jaskaran0056) 18 Aug 2022
टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए जिम्बाब्वे पिछली शृंखला की अपनी फॉर्म को बरकरार नहीं रख सकी और निरंतर अंतराल पर विकेट गंवाये।

दीपक चहर ने जहां सलामी बल्लेबाज इनोसेंट काइया, तादीनाशे मारूमानी और वेस्ले मादेवेरे को पवेलियन लौटाया, वहीं मोहम्मद सिराज ने सीन विलियम्स को आउट किया। बांग्लादेश के खिलाफ तीन मैचों में दो शतक जड़ने वाले सिकंदर रज़ा 12 रन बनाकर प्रसिद्ध कृष्णा का शिकार हुए।

मात्र 66 रन पर पांच विकेट गिरने के बाद कप्तान रेगिस चकाब्वा ने ज़िम्बाब्वे की लड़खड़ाती हुई पारी को संभालने का प्रयास किया, लेकिन वह भी 51 गेंदों पर 35 रन बनाकर पवेलियन लौट गये। चकाब्वा ने अपनी पारी में चार चौके लगाये।

रायन बर्ल (11) और ल्यूक जॉन्ग्वे (13) का विकेट गिरने के बाद जिम्बाब्वे संकट की स्थिति में थी, लेकिन ब्रैड इवान्स और रिचर्ड एंगरावा टीम के लिये संकटमोचक बनकर उभरे। दोनों ने नौंवे विकेट के लिये 70 रन जोड़े। इवान्स ने जहां 29 गेंदों पर तीन चौकों और एक छक्के की बदौलत 33 रन बनाये, वहीं एंगरावा ने 42 गेंदों में तीन चौके और एक छक्का लगाते हुए 34 रन की पारी खेली। दोनों बल्लेबाजों के प्रयास ने टीम को 189 रन के सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया।

भारत की ओर से चहर (सात ओवर, 27 रन), कृष्णा (आठ ओवर, 50 रन) और अक्षर पटेल (7.3 ओवर, 24 रन) ने तीन-तीन विकेट लिये। मोहम्मद सिराज ने आठ ओवर में 36 रन के बदले एक विकेट लिया।



और भी पढ़ें :