पुजारा की पारी के बाद रोहित ने दी फैंस को हिदायत,'फॉर्म नहीं बल्लेबाज का योगदान देखो'

पुनः संशोधित शनिवार, 28 अगस्त 2021 (12:31 IST)
हमें फॉलो करें
लीड्स: भारत के सीनियर सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा का मानना है कि चेतेश्वर पुजारा जैसे खिलाड़ी को उसकी बल्लेबाजी के बारे में कुछ बताने की जरूरत नही है और इंग्लैंड के खिलाफ 91 रन की नाबाद पारी ने उसका इरादा और काबिलियत दिखा दिया।

भारत ने तीसरे क्रिकेट टेस्ट की दूसरी पारी में तीसरे दिन दो विकेट पर 215 रन बना लिये थे।रोहित ने कहा,‘‘ आप ऐसे खिलाड़ी की बात कर रहे हैं जिसने 80 टेस्ट खेले हैं। मुझे नहीं लगता कि टेस्ट मैचों से पहले उसे कुछ बताने की जरूरत है।’’

उन्होंने कहा ,‘‘ उसने अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन टीम का काम अभी खत्म नहीं हुआ है। आगे दो दिन अहम है और उम्मीद है कि वह इसी तरह से बल्लेबाजी करता रहेगा।’’रोहित ने कहा कि पुजारा की आलोचना बाहरी बात है क्योंकि टीम उसकी काबिलियत बखूबी जानती है।

उन्होंने कहा ,‘‘ ईमानदारी से कहूं तो इस बारे में कोई बात नहीं होती। ये सब बाहरी बातें हैं। हमें उसके अनुभव और खूबियों के बारे में पता है। हालिया पारियों की बात करें तो उसने रन नहीं बनाये लेकिन लाडर्स पर उसने और अजिंक्य ने अहम साझेदारी की।’’

उन्होंने कहा ,‘‘ आस्ट्रेलिया में उसके प्रदर्शन को भी नहीं भूलना चाहिये। उसने टेस्ट श्रृंखला में जीत में अहम भूमिका निभाई।’’

रोहित ने कहा ,‘‘ कई बार हमारी याददाश्त छोटी होती है। हमें यह सोचना चाहिये कि इतने साल से इस खिलाड़ी ने कैसा प्रदर्शन किया । उसके समग्र प्रदर्शन पर गौर करना चाहियें।’’

गौरतलब है कि रोहित शर्मा ने चेतेश्वर पुजारा के साथ दूसरे विकेट के लिए 82 रनों की साझेदारी की थी। चाय के ठीक बाद ओली रॉबिन्सन ने रोहित को 59 रनों के स्कोर पर पगबाधा आउट कर यह साझेदारी तोड़ी थी।

अमूमन धीमी गति से रन बनाने वाले पुजारा इस बार 78 तक की स्ट्राइक रेट से खेलते हुए दिखे। इस पर ट्विटर पर ट्रोल्स ने खूब हंसी ठिठोली करी।
पुजारा ने ओवरटन की गेंद पर चौका मारकर अपना 40वां टेस्ट अर्धशतक पूरा किया। 180 गेंद में 15 चौकों की मदद से वह अब 91 रनों पर क्रीज पर है। चौथे दिन वह अपना शतक पूरा करने की कोशिश करेंगे क्योंकि साल 2019 के बाद से वह शतक नहीं बना पाए हैं।



और भी पढ़ें :