क्विंटन डिकॉक श्रृंखला बराबर कराने के अपनी टीम के तरीके से काफी प्रभावित

Last Updated: बुधवार, 25 सितम्बर 2019 (08:45 IST)
बेंगलुरु। भारत के खिलाफ बड़ी दर्ज करने के बाद दक्षिण अफ्रीका के कप्तान तीसरे और अंतिम टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच में वापसी करते हुए श्रृंखला बराबर कराने के अपनी टीम के तरीके से काफी प्रभावित हैं। भारतीय टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए 6 ओवरों में 1 विकेट पर 54 रन बनाकर अच्छी स्थिति में थी लेकिन इसके बाद मेहमान टीम ने जोरदार वापसी की।
ALSO READ:
दक्षिण अफ्रीका ने भारत को 9 विकेट से हराकर टी20 श्रृंखला 1-1 से बराबर की
डिकॉक ने दक्षिण अफ्रीका की 9 विकेट की जीत के बाद कहा कि उनकी शुरुआत काफी अच्छी रही लेकिन लड़कों ने जिस तरह वापसी की, उससे मैं काफी प्रभावित हूं। उन्होंने हालात को काफी अच्छी तरह समझा, अपनी रणनीति पर कायम रहे और उन्होंने भारत पर दबाव बनाए रखा।

डिकॉक ने 52 गेंदों में 79 रनों की नाबाद पारी खेलकर एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में दक्षिण अफ्रीका की जीत में अहम भूमिका निभाई लेकिन शुरुआत में मेहमान टीम के लिए बल्लेबाजी करना आसान नहीं था। दक्षिण अफ्रीकी कप्तान ने कहा कि पहले 4 ओवरों में उन्होंने हमारे ऊपर काफी दबाव डाला, रन बनाने के काफी मौके नहीं दिए, काफी खराब गेंदें नहीं फेंकीं, गेंद स्विंग कर रही थी।
उन्होंने कहा कि हम हालांकि डटे रहे और हमने सिर्फ दबाव से निपटने का प्रयास किया। श्रृंखला में अपना पहला मैच खेल रहे बाएं हाथ के तेज गेंदबाज ब्युरोन हेंड्रिक्स ने 4 ओवरों में 14 रन देकर 2 विकेट चटकाए। डिकॉक ने हेंड्रिक्स के अलावा बाएं हाथ के स्पिनर ब्योर्न फोरटुइन की भी सराहना की जिन्होंने 19 रन देकर 2 विकेट हासिल किए।
टीम के उपकप्तान रेसी वान डेर दुसेन ने कहा कि वे टेस्ट श्रृंखला से पहले मेजबान टीम को कड़ा संदेश देने में सफल रहे तथा हमें दबाव में डालने के लिए वे पर्याप्त रन नहीं बना पाए और क्विंटन विश्वस्तरीय खिलाड़ी हैं। उन्होंने यहां इतने सारे मैच खेले हैं और उन्होंने उन्हें कोई मौका नहीं दिया। दुसेन ने कहा कि हम आज यहां जीत दर्ज करने और कड़ा संदेश देने के लक्ष्य के साथ आए थे। कप्तान ने मोर्चे से अगुआई की।


और भी पढ़ें :