T20 क्रिकेट को पढ़ने और पारी को संवारने का गुर सीख चूके हैं लोकेश राहुल

पुनः संशोधित बुधवार, 8 जनवरी 2020 (16:14 IST)
इंदौर। के सलामी बल्लेबाज का मानना है कि वे खेल को पढ़ने और अपनी पारी को संवारने को लेकर 'काफी बेहतर' हो गए हैं और यही सीमित ओवरों के प्रारूप में उनके प्रदर्शन में आई निरंतरता का कारण है।

राहुल ने 2019 में सीमित ओवरों के क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन करते हुए एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में 2 शतक और 3 अर्द्धशतक जड़े जबकि टी-20 अंतरराष्ट्रीय में भी वे 3 अर्द्धशतक बनाने में सफल रहे। यहां श्रीलंका के खिलाफ दूसरे टी-20 में भारत की जीत के बाद राहुल ने कहा कि मैं रन बना रहा हूं और खेल को पढ़ने की क्षमता काफी बेहतर हुई है और मुझे पता है कि अपनी पारी को कैसे संवारना है।
उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि पहले मैं ऐसा नहीं कर पा रहा था। मुझे हालांकि हमेशा से पता था कि मेरे पास रन बनाने वाला खेल है और सिर्फ क्रीज पर समय बिताने से सब कुछ ठीक हो जाएगा।

श्रीलंका के 143 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत ने मंगलवार को 7 विकेट की जीत के साथ 3 मैचों की श्रृंखला में 1-0 की बढ़त बनाई। मैच में 32 गेंद में 45 रन की पारी खेलने वाले राहुल ने श्रीलंका को कम स्कोर पर रोकने का श्रेय गेंदबाजों को दिया।


और भी पढ़ें :