पोलार्ड का बड़ा बयान, वेस्टइंडीज की युवा प्रतिभा को विश्व क्रिकेट के 'गिद्धों' से बचाना जरूरी

Last Updated: गुरुवार, 5 दिसंबर 2019 (19:53 IST)
हैदराबाद। की टी20 टीम के कप्तान ने गुरुवार को कहा कि उनके देश के युवा क्रिकेटरों ‘खेल के गिद्धों’ से बचाने की जरूरत है।
वेस्टइंडीज ने भारत के खिलाफ सीमित ओवरों की श्रृंखला के लिए अपनी 15 सदस्यीय टीम में कुछ युवा खिलाड़ियों को रखा है और पोलार्ड का मानना है कि उन्हें अपनी प्रतिभा को दिखाने के लिए पर्याप्त मौके मिलने चाहिए। इस श्रृंखला की शुरुआत शुक्रवार को यहां पहले टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच से होगी।

पोलार्ड ने मैच की पूर्व संध्या पर कहा, ‘वे (ब्रेंडन किंग और केसरिक विलियम्स) काफी अच्छे खिलाड़ी हैं। यह अच्छा है कि सीपीएल (कैरेबियाई प्रीमियर लीग) से हमें युवा खिलाड़ी मिल रहे हैं। वे वेस्टइंडीज का प्रतिनिधित्व करने को लेकर उत्साहित हैं। लेकिन समस्या यह है कि हम एक व्यक्ति के तौर पर लोगों के बारे में बहुत जल्दी राय बना देते हैं।’

उन्होंने कहा, ‘हमें संयम बरतने की जरूरत है। आखिर में हमें परिणाम चाहिए लेकिन कई बार आपको खुद के साथ ईमानदार होना पड़ता है। हम दुनिया को इस प्रतिभा का परिचय कराने के लिए तैयार हैं कि वे क्या कर सकते हैं। कई बार आपको इन्हें सुरक्षा देने की और गिद्धों से बचाने की जरूरत पड़ती है।’

युवा खिलाड़ी जैसे ब्रेंडन किंग, खारी पियरे, शेरफेन रदरफोर्ड, केसरिक विलियम्स और हेडन वाल्श जूनियर को भारतीय दौरे के लिए कार्लोस ब्रेथवेट, आंद्रे रसेल और ड्वेन ब्रावो जैसे अनुभवी खिलाड़ियों पर प्राथमिकता दी गई है।
पोलार्ड ने कहा, ‘उन्हें (युवा खिलाड़ियों) अनुभव हासिल करने की जरूरत है और हमें उनका समर्थन करना होगा और देखते हैं कि वे कितने आगे जा सकते हैं क्योंकि हमने उनकी प्रतिभा और नजरिया देखा है।’ आगामी श्रृंखला के बारे में पोलार्ड ने कहा कि उनकी टीम भारत में खेलने के अनुभव का उपयोग करके मेजबान को चुनौती देने की कोशिश करेगी।

उन्होंने कहा, ‘हमने भारत में काफी क्रिकेट खेली है। यह केवल अपने अनुभव का इस्तेमाल करने से जुड़ा है और उम्मीद है कि यह अनुभव हमारे काम आएगा। हम आखिरकार अच्छी क्रिकेट खेलने के लिए यहां आए हैं। हमने अच्छी तैयारी की है।’

पोलार्ड ने कहा कि भारत को कड़ी चुनौती देने के लिए उनकी टीम को अपने संपूर्ण खेल में सुधार करना होगा। उन्होंने कहा, ‘हमारा मुकाबला एक मजबूत टीम से है। वह नंबर एक टीम (टेस्ट में) है और मुझे लगता है कि यह हमारे लिए अच्छा है हमें नंबर एक टीम से खेलने का मौका मिल रहा है।

हम इसे चुनौती की तरह ले रहे हैं। हमें अपनी सामने खड़ी चुनौती का डटकर सामना करके उससे निबटना होगा।’ पोलार्ड ने कहा, ‘हम अपने बेसिक्स को सही करने पर ध्यान दे रहे हैं। हम एक टीम के तौर पर अपनी क्रिकेट में सुधार पर ध्यान दे रहे हैं।’


और भी पढ़ें :