ICC Women's T20 World Cup के फाइनल पर भारत की नजर, इंग्लैंड से गुरुवार को मुकाबला

indian women cricket tema
Last Updated: बुधवार, 4 मार्च 2020 (15:13 IST)
सिडनी। ग्रुप चरण में अजेय रहा भारत गुरुवार को यहां इंग्लैंड की मजबूत टीम के खिलाफ में जीत दर्ज करके पहली बार (ICC Women's T20 World Cup) के फाइनल में जगह बनाने के इरादे से उतरेगा। सेमीफाइनल मैच भारतीय समयानुसार सुबह 9 बजकर 30 मिनट पर शुरू होगा।
भारत मौजूदा टूर्नामेंट में अब तक सर्वश्रेष्ठ टीम रहा है। भारत पिछले 7 टूर्नामेंट में कभी फाइनल में नहीं पहुंचा लेकिन इस बार शानदार प्रदर्शन की बदौलत टीम प्रबल दावेदारों में शामिल है। भारत ने अपने अभियान की शुरुआत 4 बार के चैंपियन ऑस्ट्रेलिया पर जीत के साथ की और फिर बांग्लादेश, न्यूजीलैंड और श्रीलंका को भी हराकर ग्रुप 'ए' में 4 मैचों में 8 अंक के साथ शीर्ष पर रहा।

भारत अच्छी फॉर्म में है लेकिन रिकॉर्ड इंग्लैंड के पक्ष है जिसने महिला टी-20 विश्व कप में दोनों टीमों के बीच अब तक हुए पांचों मुकाबलों में जीत दर्ज की है। वेस्टइंडीज में पिछले टी-20 विश्व कप के सेमीफाइनल में भी इंग्लैंड ने भारत को 8 विकेट से हराया था जबकि इससे पहले 2009, 2012, 2014 और 2016 में भी टीम इंडिया को ग्रुप चरण में इस टीम के खिलाफ हार झेलनी पड़ी।
भारत की मौजूदा टीम में शामिल 7 खिलाड़ी 2018 में सेमीफाइनल मुकाबले में खेली थीं और अब वे इंग्लैंड से हिसाब चुकता करने को बेताब हैं। भारत ने विश्व कप से पहले त्रिकोणीय श्रृंखला में भी इंग्लैंड को हराया था जिससे टीम का आत्मविश्वास बढ़ा होगा।

टूर्नामेंट में भारत की शीर्ष स्कोरर शैफाली वर्मा ने 4 मैचों में 161 रन बनाए हैं जिसकी बदौलत आईसीसी महिला टी-20 रैंकिंग में शीर्ष पर पहुंच गई हैं। शैफाली टूर्नामेंट की सबसे सफल बल्लेबाजों में इंग्लैंड की नताली स्किवर (202) और हीथर नाइट (193) के बाद तीसरे स्थान पर है।
जेमिमा रोड्रिग्ज भी अच्छी लय में हैं लेकिन बड़ी पारी खेलने में नाकाम रही हैं। मध्यक्रम में भी वेदा कृष्णमूर्ति, शिखा पांडे और राधा यादव ने जरूरत पड़ने पर उपयोगी योगदान दिया है।

टीम की 2 सबसे अनुभवी खिलाड़ी कप्तान हरमनप्रीत सिंह और सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना हालांकि अब तक उम्मीदों पर खरी नहीं उतर पाई हैं और सेमीफाइनल में फॉर्म में वापसी करना चाहेंगी।

गेंदबाजी विभाग में लेग स्पिनर 4 मैचों में 9 विकेट के साथ सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज हैं। शिखा (4 मैचों में 7 विकेट) से उन्हें अच्छा सहयोग मिला है। इंग्लैंड ने ग्रुप 'बी' में 3 जीत और 1 हार से दूसरे स्थान पर रहते हुए सेमीफाइनल में जगह बनाई।
नताली ने 3 अर्द्धशतकों की मदद से 67.33 की औसत से 202 रन बनाए और भारतीय गेंदबाजों को उन्हें रोकने का तरीका ढूंढना होगा। गेंदबाजी विभाग में भी इंग्लैंड के पास बाएं हाथ की स्पिनर सोफी एकलेस्टोन (8 विकेट) और तेज गेंदबाज आन्या श्रुबसोल (7 विकेट) जैसी गेंदबाज हैं, जो मौजूदा टूर्नामेंट की सबसे सफल गेंदबाजों की सूची में क्रमश: दूसरे और तीसरे स्थान पर हैं।

टीम इस प्रकार है-
भारत : (कप्तान), जेमिमा रोड्रिग्स, शैफाली वर्मा, स्मृति मंधाना, शिखा पांडे, पूनम यादव, दीप्ति शर्मा, वेदा कृष्णमूर्ति, तानिया भाटिया, राधा यादव, अरुंधति रेड्डी, हरलीन देओल, राजेश्वरी गायकवाड़, रिचा घोष और पूजा वस्त्रकार।

इंग्लैंड : हीथर नाइट (कप्तान), टैमी ब्युमोंट, कैथरीन ब्रंट, केट क्रॉस, फ्रेया डेविस, सोफी एकलेस्टोन, जॉर्जिया एल्विस, सारा ग्लेन, एमी जोन्स, नताली स्किवर, आन्या श्रुबसोल, मैडी विलियर्स, फ्रेन विल्सन, लारेन विनफील्ड और डेनी वाट।


और भी पढ़ें :