7 साल पहले इंग्लैंड में टेस्ट जीती थी भारतीय महिलाएं, हरमनप्रीत ने इस वीडियो में साझा किए यादगार पल

पुनः संशोधित मंगलवार, 15 जून 2021 (13:05 IST)
लंदन: ने भले ही लगभग चार साल से टेस्ट क्रिकेट नहीं खेला है, लेकिन फिर भी भारतीय महिला टेस्ट क्रिकेट टीम की उप कप्तान में इंग्लैंड के खिलाफ खेलते वक्त सामने आने वाली चुनौती से परेशान नहीं हैं। यहां तक कि टीम के पास परिस्थितियों के लिए तैयार होने के लिए पर्याप्त समय तक नहीं है, लेकिन फिर भी उनका मानना है कि वह चुनौती का सामना करने के लिए मानसिक रूप से तैयार हैं।

हरमनप्रीत ने सोमवार को संवाददाता सम्मेलन में कहा, “ हमने मैच परिदृश्य बनाए हैं और अपने सर्वोत्तम अवसरों के लिए तैयार किया है। हम जानते हैं कि हमें अभ्यास करने के लिए इतना समय नहीं मिला है, लेकिन एक खिलाड़ी के तौर पर हमने जितनी जल्दी हो सके स्थिति के अनुकूल होने की कोशिश की है। भारत में हमारे पास जो विकेट हैं, यहां की पिच उससे अलग होगी। लाल गेंद स्विंग करेगी और हमने इसके लिए नेट्स में अभ्यास किया है। हमारे पास खुद को तैयार करने के लिए दो दिन और हैं और हम उम्मीद करते हैं कि हम मैच के लिए जितना हो सके उतना ज्यादा तैयार रहेंगे।
उप कप्तान ने मुख्य कोच को श्रेय देते हुए कहा, “ वह ऐसे व्यक्ति हैं जो हमेशा खेल में शामिल रहते हैं और चाहते हैं कि दूसरे भी इसमें शामिल रहें। वह हमेशा ऐसे परिदृश्य बनाते हैं जहां आपको लगता है कि आप एक मैच में हैं और आप उस परिदृश्य में कैसे प्रतिक्रिया देंगे और आपकी योजना क्या होगी। जब मैं उनसे बात करती हूं तो मुझे काफी जानकारी मिलती है, क्योंकि उन्होंने भी काफी क्रिकेट खेला है। हम जो काम 2018 में कर रहे थे, वही अब कर रहे हैं। ”

उन्होंने कहा, “ हमने भले ही उतना अभ्यास नहीं किया है, लेकिन मानसिक रूप से हमने बहुत सी चीजों पर चर्चा की है ताकि हम मैच के लिए खुद को तैयार कर सकें। यहां तक कि नेट्स में भी हमने यह सुनिश्चित किया है कि हम एक अच्छी मानसिकता में हों, अच्छा महसूस करें और अपनी बल्लेबाजी के बारे में ज्यादा सोचने के बजाय बेहतर क्रिकेट खेलें। हम अपनी ताकत के साथ खेलना चाहते हैं और उस खेल को बरकरार रखना चाहते हैं जो हमने अब तक खेला है। ”
इसके अलावा हरमनप्रीत ने सात साल पहले इंग्लैंड की धरती पर जीते गए टेस्ट की यादे भी साझा की।यह मैच भारतीय महिला क्रिकेट टीम के लिए कई मायनों में यादगार रहा था। कुल 5 खिलाड़ियों ने इसमें पदार्पण किया था। तेज गेंदबाज झूलन गोस्वामी ने 5 विकेट लिए थे और इसके अलावा मिताली राज और स्मृति मंधाना के बीच में मैच जिताऊ साझेदारी हुई थी।
(वार्ता)



और भी पढ़ें :