यूरो टी20 स्लैम को वेंगसरकर और अकरम जैसे दिग्गजों का समर्थन मिला

Last Updated: बुधवार, 1 मई 2019 (19:00 IST)
डबलिन। पूर्व भारतीय कप्तान और पाकिस्तान के पूर्व कप्तान ने स्लैम का समर्थन किया है जो स्काटलैंड, आयरलैंड और नीदरलैंड के खिलाड़ियों को शीर्ष अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों के साथ खेलने का अनुभव देगा।

यूरो टी20 स्लैम के पहले टूर्नामेंट में छह टीमें होंगी जिसमें आयरलैंड, स्काटलैंड और नीदरलैंड प्रत्येक देश की दो-दो टीमें टूर्नामेंट में हिस्सा लेंगी।

टूर्नामेंट का आयोजन 30 अगस्त से 22 सितंबर तक किया जाएगा और इसमें आयलैंड ने डबलिन और बेलफास्ट, स्काटलैंड से एडिनबर्ग और ग्लास्गो और नीदरलैंड से एम्सटर्डम और रोटरडम की टीमें हिस्सा लेंगी।

मैचों का आयोजन तीन शहरों डबलिन, एडिनबर्ग और एम्सटर्डम में किया जाएगा। लीग में सेमीफाइनल और फाइनल सहित कुल 33 मैच खेले जाएंगे। प्रत्येक टीम राउंड रोबिन प्रारूप में खेलेगी।

टूर्नामेंट के नियमों के अनुसार प्रत्येक टीम में नौ घरेलू खिलाड़ी और सात तक विदेशी खिलाड़ी हो सकते हैं। प्रत्येक मैच की अंतिम एकादश में छह घरेलू खिलाड़ियों को खिलना अनिवार्य होगा।

अकरम ने कहा, ‘यह इन तीन देशों के खिलाड़ियों के लिए शानदार मौका है। लीग का सर्वश्रेष्ठ हिस्सा यह है कि प्रत्येक टीम की अंतिम एकादश में छह स्थानीय खिलाड़ी होंगे। कल्पना कीजिए कि उन्हें क्रिस गेल या आंद्रे रसेल जैसे खिलाड़ियों के साथ खेलकर किस तरह का अनुभव मिलेगा। इससे उनके खेल में काफी सुधार होगा।’

वेंगसरकर ने भी कहा, ‘अगर वे टी20 के दिग्गजों का दिमाग पढ़ पाए तो इससे उन्हें अपने देशों के खिलाफ खेलने में मदद मिलेगी। इसका उद्देश्य इन तीन देशों में प्रतिभा को बढ़ावा देना है और यूरो टी20 इन युवाओं के लिए काफी अच्छा मंच है।’
तस्वीर सौजन्य : यूट्‍यूब

 

और भी पढ़ें :