महेंद्र सिंह धोनी ने बताई प्यार की सही उम्र

पुनः संशोधित बुधवार, 27 नवंबर 2019 (12:48 IST)
चेन्नई। क्रिकेट के मैदान पर भले ही वह 'कैप्टन कूल' रहे हों लेकिन महेंद्र सिंह धोनी का कहना है कि घर के मामले में फैसले उनकी पत्नी साक्षी लेती है और वह कभी दखल नहीं देते। यहां एक कार्यक्रम में 38 बरस के पूर्व कप्तान ने मजाकिया लहजे में कहा, 'मुझे पता है कि वह खुश रहेगी तो ही मैं खुश रह सकूंगा। भारत को दो विश्व कप दिलाने वाले धोनी ने 2010 में साक्षी से विवाह किया था।
उन्होंने एक कार्यक्रम में मंगलवार की रात कहा, 'शादी होने तक सारे पुरुष शेर होते हैं।' उन्होंने कहा कि मैं आदर्श पति हूं। मैं अपनी पत्नी को सारे फैसले लेने देता हूं। मुझे पता है कि वह खुश रहेगी तो ही मैं खुश रह सकूंगा। मेरी पत्नी तभी खुश रहेगी जब मैं उसकी हर बात में हां कहूं। उन्होंने कहा कि उम्र के साथ रिश्ते मजबूत होते हैं।

उन्होंने कहा कि शादी का सार 50 बरस के बाद है। एक बार 55 के हो जाने पर प्यार की असली उम्र होती है। उस समय आपकी दिनचर्या बदल जाती है।
धोनी के भविष्य को लेकर लंबे समय से अटकलें लगाई जा रही है जो लंबे समय से क्रिकेट से दूर हैं। उनके करीबी एक सूत्र ने कहा कि वह अगले साल आईपीएल के बाद ही अपने भविष्य को लेकर फैसला लेंगे।




और भी पढ़ें :