तीसरे टी20 मैच में टीम इंडिया की विशाल जीत की 5 बड़ी बातें

वेबदुनिया न्यूज डेस्क| पुनः संशोधित शनिवार, 11 जनवरी 2020 (00:51 IST)
पुणे। टीम इंडिया ने तीसरे और अंतिम टी20 मैच को पूरी तरह एकतरफा बनाकर 78 रनों से विशाल जीत दर्ज
की। इसके साथ ही भारत टी20 मैचों की सीरीज को 2-0 से जीतने में कामयाब रहा। गुवाहाटी में खेला गया
पहला टी20 मैच बारिश के बाद खराब पिच के कारण रद्द कर दिया गया था। पेश हैं, तीसरे टी20 मैच में टीम
इंडिया की जीत की 5 बड़ी बातें...

1. टॉस हारने का असर नहीं : टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली टॉस जरूर हारे लेकिन इसका कोई असर
नहीं पड़ा। भारत ने 20 ओवर में 6 विकेट खोकर 201 रन बनाए। जवाब में श्रीलंका की टीम 15.5 ओवर में 123 रनों पर ही ढेर हो गई। श्रीलंका की ओर से धनंजय डि सिल्वा 57 रन बनाकर टॉप स्कोरर रहे। 9
बल्लेबाज दोहरी संख्या तक भी नहीं पहुंचे। भारत की तरफ से नवदीप सैनी ने 3, शार्दुल ठाकुर और वाशिंगटन
सुंदर ने 2-2 विकेट लिए।
2. भारत की मजबूत शुरुआत : श्रीलंका के गेंदबाजी आक्रमण को भारत की सलामी जोड़ी ने बोथरा साबित कर
दिया। 10.5 ओवर में केएल राहुल और शिखर धवन ने 97 रन बनाकर आने वाले बल्लेबाजों पर से दबाव हटा दिया। राहुल ने 36 गेंदों में 5 चौके और 1 छक्के की सहायता से 54 और शिखर धवन ने भी 36 गेंद का
सामना किया और 7 चौकों व 1 छक्के की मदद से 52 रन की पारी खेली।

3. मनीष और शार्दुल ने छुड़ाए छक्के : लंकाई गेंदबाजों के छक्के छुड़ाने की शुरुआत यूं तो विराट कोहली ने की
थी जो 17 गेंदों पर 26 रन बनाकर रन आउट हो गए लेकिन उसके बाद मनीष पांडे और शार्दुल ठाकुर ने उसे
अंजाम तक पहुंचाया। मनीष 17 गेंदों पर 31 रन बनाकर और शार्दुल ठाकुर 8 गेंदों पर 1 चौके व 2 छक्कों के साथ 22 रन पर नाबाद रहे।

4. बुमराह बने भारत के सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज : इस मैच में भले ही 5 महीने के बाद वापसी
कर दूसरा मैच खेल रहे जसप्रीत बुमराह ने 2 ओवर की गेंदबाजी में 5 रन देकर 1 विकेट लिया, लेकिन इस
एक विकेट के सहारे वे इंडिया के सबसे ज्‍यादा विकेट (53 विकेट) लेने वाले गेंदबाज बन गए हैं। टी20 में
उन्होंने युजवेंद्र चहल (52 विकेट) और आर. अश्विन (52 विकेट) को पीछे छोड़ दिया।
5. विराट कोहली के सबसे तेज 11 हजार रन : पुणे मैच में विराट कोहली ने जैसे ही 1 रन बनाया, वैसे ही वे
सबसे कम 196 पारियों में क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में सबसे तेज 11 हजार रन बनाने वाले दुनिया के पहले
कप्तान बन गए। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के रिकी पोंटिंग (252 पारी) और दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्तान ग्रीम
स्मिथ (265 पारी) को पीछे छोड़ दिया।




और भी पढ़ें :