47 साल में 15 क्रिकेटरों ने डेब्यू वनडे में ठोंके शतक, KL Rahul यह कारनामा करने वाले इकलौते भारतीय

1972 से लेकर 2019 तक 47 सालों में एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सिर्फ 15 ऐसे बल्लेबाज हुए हैं, जिन्होंने पदार्पण वनडे में ठोंका हो। इनमें सबसे ज्यादा 3-3 दक्षिण अफ्रीका और पाकिस्तान के बल्लेबाज रहे, जिनके नाम डेब्यू वनडे में सैकड़े दर्ज हैं। न्यूजीलैंड, इंग्लैंड के 2-2 बल्लेबाजों ने तथा भारत, ऑस्ट्रेलिया, वेस्टइंडीज, जिम्बॉब्वे और हांगकांग के 1-1 बल्लेबाज ने अपने पहले ही मैच में शतक जड़े।

आईसीसी रैंकिंग में भले ही इंग्लैंड के बाद दूसरे नंबर पर हो लेकिन उसका एकमात्र खिलाड़ी ही इन 47 बरस में शतकवीर हो पाया है। यह सम्मान भारत को ने दिलाया। डेब्यू वनडे में शतक लगाने के मामले में कुल 15 धुरंधर क्रिकेटरों में राहुल का क्रम 11वां है। राहुल ने 11 जून 2016 को अपना पदार्पण वनडे मैच जिम्बाब्वे के खिलाफ खेला था, जिसमें वे 115 गेंदों पर 7 चौकों व 1 छक्के के साथ 115 गेंदों पर 100 रन बनाकर नाबाद रहे थे। भारत ने यह मैच 45 गेंद शेष रहते 9 विकेट से जीता था।
को पहला सम्मान : 24 अगस्त 1972 के दिन दुनिया का दूसरा वनडे मैच इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेला गया था, जिसमें इंग्लैंड के डेनिस एमिस ने अपने डेब्यू वनडे में 134 गेंद पर 103 रन की पारी खेली थी, जिसमें 9 चौके शामिल थे। उनका स्ट्राइक रेट था 76.86। इंग्लैंड के ही एमजे लंब (106) पदार्पण मैच में शतक लगाने वाले दूसरे अंग्रेज थे। उन्होंने यह शतक वेस्टइंडीज के खिलाफ लगाया।

6 साल बाद दूसरा डेब्यू शतक : क्रिकेट बिरादरी को दूसरे डेब्यू वनडे शतक के लिए 6 बरस का इंतजार करना पड़ा। 22 फरवरी 1978 को मैच नंबर 48 में वेस्टइंडीज के खूंखार बल्लेबाज डेसमंड हेंस ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 136 गेंदों में 148 रन ठोंके, जिसमें 16 चौके और 2 छक्के शामिल थे।
द. अफ्रीका के तीन बल्लेबाजों के डेब्यू शतक : दक्षिण अफ्रीका के 3 बल्लेबाज डेब्यू वनडे में शतक ठोंकने में सफल रहे। इनग्राम ने जिम्बाव्वे के खिलाफ 124 रन, टी बऊमा 113 और हेंड्रिक्स 102 रन बनाने में सफल हुए। पाकिस्तान की ओर से पदार्पण वनडे में शतक लगाने वाले 3 बल्लेबाज थे सलीम इलाही नाबाद 102, इंजमाम उल हक 100 और आबिद अली 112 रन। आबिद ने यह शतक 29 मार्च 2019 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ लगाया।

न्यूजीलैंड के 2 बल्लेबाजों ने किया कारनामा : न्यूजीलैंड के दो बल्लेबाजों को पदार्पण वनडे में शतक लगाने का श्रेय जाता है। मार्टिन गुप्टिल ने वेस्टइंडीज के खिलाफ नाबाद 122 और निकोल ने जिम्बाब्वे के विरुद्ध नाबाद 108 रन बनाए।

डेब्यू के अन्य शतकवीर बल्लेबाज : ऑस्ट्रेलिया के फिल ह्यूज ने श्रीलंका के खिलाफ 112, जिम्बाब्वे के एंड्रयू फ्लावर ने श्रीलंका के खिलाफ नाबाद 115, हांगकांग के चैपमैन ने यूएई के खिलाफ नाबाद 124 रन बनाए थे।




और भी पढ़ें :