उड़न तश्तरी की हकीकत, कितनी सही कितनी झूठ

PTI
संसद में हाल ही में गुजरात के जामनगर में उड़न तश्तरी देखे जाने पर सवाल उठा था। 6 महीने पहले लद्दाख से अरुणाचल प्रदेश तक चीन की सीमा पर तैनात भारतीय जवानों ने सैकड़ों अज्ञात चीजों के आकाश में उड़ने की शिकायत की थी। ज्यादातर लोगों ने इसे पड़ोसी देश की शरारत माना था।

बाद में जब कथित उड़न तश्तरियों की सेना के राडार और स्पेक्ट्रम एनालाइजर से जांच की गई तो नतीजे चौंकाने वाले रहे। इन अज्ञात उड़न तश्तरियों में किसी भी वस्तु का नामोनिशान नहीं है तो क्या ये रिमोट से चलने वाली चीनी लालटेन थीं? विशेषज्ञ इस पर चुप्पी साध रहे हैं लेकिन दावे से कोई कुछ भी कहने के लिए तैयार नहीं है।

नई दिल्ली| Last Updated: गुरुवार, 2 जुलाई 2020 (12:22 IST)
तो फिर अगली बार जब कभी उड़न तश्तरी को देखने की बात सुनें तो समझ लीजिए कोई चाइनीज लालटेन उड़ रही है या फिर दूर आकाश में प्रकृति कोई खेल रच रही है। (भाषा)



और भी पढ़ें :