बाल गीत : मछली की समझाइश‌

मेंढक बोला चलो सड़क पर,
जोरों से टर्राएं।
 
बादल सोया ओढ़ तानकर,
उसको शीघ्र जगाएं।
 
मछली बोली पहले तो हम,
लोगों को समझाएं।
 
पेड़ काटना बंद करें वे,
बचाएं।  



और भी पढ़ें :