1. खेल-संसार
  2. आईपीएल 2022
  3. आईपीएल 2022 न्यूज़
  4. Rohit Sharma may just manage to salvage his captaincy for this season
Written By
पुनः संशोधित मंगलवार, 26 अप्रैल 2022 (17:33 IST)

रोहित शर्मा के कप्तानी छोड़ने की अटकलों में है कितनी संभावनाएं

वैसे तो आईपीएल के बीच में किसी कप्तान से कप्तानी छीनकर किसी दूसरे को कप्तानी देना कोई नई बात नहीं है। हालांकि अगर यह कप्तान रोहित शर्मा के साथ होने वाला है तो फिर यह बहुत बड़ी बात है।

रिकॉर्ड पांच बार की चैंपियन मुंबई की टीम अभी इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के इतिहास में अपने सबसे बुरे दौर से गुजर रही है। उसे रविवार को लखनऊ सुपर जायंट्स से हार झेलनी पड़ी जो उसकी लगातार आठवीं हार है।

मुंबई इंडियन्स के लिए इस वक्त कुछ भी सही नहीं जा रहा है। बल्लेबाजी से लेकर गेंदबाजी तो फील्डिंग का स्तर भी खराब है। इसके अलावा रोहित शर्मा की कप्तानी भी सवालों के घेरे में है। अटकलें यह भी लगाई जा रही है कि हो सकता है फ्रैंचाइजी बीच टूर्नामेंट में ही कप्तान बदल दे।

कप्तानी में दिख रहे हैं बुझे बुझे

रोहित शर्मा अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में तो चतुर कप्तान है और जल्द परेशान नहीं होते लेकिन इस सत्र में वह बेहद ही बुझे बुझे कप्तान लगे हैं। हर चौके और छक्के पर वह अपना मुंह छुपाते नजर आते हैं। हर ओवर में वह गेंदबाजी पर दबाव डालते हैं। रोहित शर्मा इस कप्तानी के लिए नहीं जाने जाते।

बल्लेबाजी  में फ्लॉप हिटमैन

रोहित शर्मा बल्लेबाजी में इतने फ्लॉप साबित हुए हैं इसका अंदाजा इस ही बात से लगाया जा सकता है कि जयदेव उनादकट का 19.66 का बैटिंग औसत कप्तान से बेहतर है। रोहित शर्मा 8 मैचों में एक भी अर्धशतक लगाने में नाकामयाब हुए हैं। उन्होंने 126 की स्ट्राइक रेट से 153 रन बनाए हैं।
हार के बाद रोहित ने किया भावुक ट्वीट

रोहित शर्मा ने कल ही एक भावुक ट्वीट लिखा, 'हमने इस टूर्नामेंट में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नहीं किया है, लेकिन ऐसा होता रहा है। कई दिग्गज खिलाड़ी इस दौर से गुजरे हैं लेकिन मुझे इस टीम और इसके वातावरण से प्यार है। साथ ही मैं उन शुभचिंतकों की भी सराहना करना चाहता हूं जिन्होंने अब तक इस टीम के प्रति विश्वास और अटूट निष्ठा दिखाई है।'

कोच जयवर्धने ने दिए बदलाव के संकेत

मुंबई इंडियन्स के कोच माहेला जयवर्धने ने अपने बल्लेबाजों की लगातार नाकामी के बाद बल्लेबाजी क्रम में बदलाव करने के संकेत दिये हैं।

जयवर्धने से मैच के बाद जब बल्लेबाजी क्रम में संभावित बदलाव के बारे में पूछा गया, उन्होंने कहा, ‘‘अच्छा सवाल है। मुझे इसकी समीक्षा करने और कोई रणनीति तैयार करने से पहले अन्य कोच के साथ भी बात करनी होगी।’’

उन्होंने कहा, ‘‘बल्लेबाजी हमारे लिये चिंता का विषय है, विशेषकर अच्छे विकेटों पर भी हम अच्छी बल्लेबाजी नहीं कर पाये हैं। टीम में अनुभवी बल्लेबाज हैं जो परिस्थितियों से वाकिफ हैं और पूर्व में अच्छा प्रदर्शन करते रहे हैं। हमें इससे आगे बढ़ना होगा और यदि हमें बदलाव करने की जरूरत पड़ती है तो हम ऐसा करेंगे।’’

इस श्रीलंकाई दिग्गज ने कहा, ‘‘हमने अब तक कुछ बदलाव किये लेकिन बहुत अधिक नहीं। हम बल्लेबाजरी में निरंतरता बनाये रखना चाहते थे। निश्चित तौर पर कुछ चिंताएं हैं क्योंकि चाहे हम पहले बल्लेबाजी कर रहे हैं या लक्ष्य का पीछा कर रहे हैं, हमारे प्रदर्शन में निरंतरता का अभाव है।’’

पूरी टीम फ्लॉप इस कारण बच जाएंगी रोहित की कप्तानी

ईशान किशन से लेकर जयदेव उनादकट तक मुंबई एक पूरी ईकाई की तरह फ्लॉप हुई है। ऐसे में यह नहीं कहा सकता कि सारा दोष कप्तान का है। अगर कप्तानी के कुछ बेवकूफाना फैसलों के कारण यह हालात होते तो फिर भी रोहित की कप्तानी जाने के आसार थे।

मुंबई के पास कप्तानी का कोई दूसरा विकल्प मौजूद नहीं

मुंबई इंडियन्स के लिए साल 2020 में जब रोहित शर्मा गैरमौजूद थे तो कीरन पोलार्ड ने अगुवाई की थी। हालांकि इस साल रोहित शर्मा से ज्यादा खराब फॉर्म कीरन पोलार्ड का है। इसके अलावा इंडीज के दौरे पर उनकी कप्तानी में टीम हारी भी थी। अनुभव या प्रदर्शन के आधार पर मुंबई इंडियन्स अभी किसी भी दूसरे खिलाड़ी को कप्तानी देने की स्थिति में नहीं है।
ये भी पढ़ें
66 साल के अरुण लाल करेंगे 28 साल छोटी दुल्हन से शादी, तलाकशुदा पत्नी भी राजी