3000 करोड़ रुपए कमाने वाली कंपनी ही लगा सकेगी IPL 2022 की 2 नई टीमों की बोली, 17 अक्टूबर को होगी नीलामी

पुनः संशोधित मंगलवार, 14 सितम्बर 2021 (21:11 IST)
नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बाेर्ड (बीसीसीआई) की ओर से 2022 सीजन के लिए दो नई टीमों की नीलामी आगामी 17 अक्टूबर को की जा सकती है।

नीलामी की संभावित तारीख दुबई में आईपीएल फाइनल के ठीक दो दिन होने के मद्देनजर टीमों की बोली दुबई या मस्कट में हो सकती है। समझा जाता है कि बीसीसीआई ने बोली लगाने वाली संभावित पार्टियों को नीलामी की अंतिम तिथि और स्थान के बारे में जल्द सूचित किए जाने की जानकारी दी है।

यह भी सामने आया है कि बीसीसीआई ने बोली लगाने वाली पार्टियों को तीन प्रमुख तारीखों 21 सितंबर, पांच अक्टूबर और 17 अक्टूबर को लेकर सूचित किया है। 21 सितंबर तक स्पष्टीकरण मांगा जा सकता है, जबकि आईटीटी (निविदा का निमंत्रण) दस्तावेज पांच अक्टूबर तक खरीद के लिए उपलब्ध होगा और 17 अक्टूबर को नीलामी होने की संभावना है। यह पुष्टि की गई है कि कोई ई-नीलामी नहीं होगी और बंद बोली प्रक्रिया की सदियों पुरानी प्रथा का पालन किया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि वर्तमान में प्रत्येक आईपीएल टीम के लिए लीग मैचों की संख्या 14 होती है, जो नई दो टीमों के बाद 18 हो सकती है। अभी प्रत्येक टीम कम से कम सात मैच घरेलू मैदानों पर और सात घर से बाहर खेलती है। वर्तमान में लीग में आठ टीमें हैं और प्रत्येक टीम को समान रूप से सात घरेलू और सात मैच बाहर खेलने को मिलते हैं, लेकिन दो नई टीमों के आने के बाद प्रत्येक टीम नौ मैच घरेलू मैदान और नौ घर से बाहर खेल सकती है, हालांकि बड़ी खिड़की के अभाव के कारण यह संभावना है कि बीसीसीआई समझौते में 14 मैचों के साथ ही रहेगा।

18 लीग मैचों का विकल्प खुला रखा जा सकता है। उपलब्ध खिड़की के आधार पर लीग मैचों की कुल संख्या 74 या 94 हो सकती है। अगले साल, जब मीडिया अधिकारों का मौजूदा चक्र समाप्त हो जाएगा, तो 74 मैच होंगे जिनमें सभी टीमों को दो समूहों के प्रारूप में सात घरेलू और सात मैच घर से बाहर खेलने होंगे।

3000 करोड़ रुपए कमाने वाली कंपनी को मिलेगा मौका

बीसीसीआई ने वित्तीय जरूरतों को लेकर स्पष्ट करते हुए कहा है कि बोली लगाने वाली प्रत्येक पार्टी की कुल संपत्ति 2500 करोड़ रुपए होनी चाहिए और कंपनी का कारोबार तीन हजार करोड़ रुपए का होना चाहिए। एक संघ के मामले में, बीसीसीआई केवल तीन भागीदारों को अनुमति देगा और उनमें से एक को 2500 करोड़ रुपए की कुल संपत्ति और तीन हजार करोड़ रुपए के कारोबार के उपरोक्त मानदंडों को पूरा करना होगा।

समझा जाता है कि बोली लगाने के दो चरण होंगे, कानूनी और वित्तीय। एक बार कानूनी विभाग द्वारा बोलीदाता के योग्यता मानदंडों से संतुष्ट हो जाने के बाद वित्तीय बोली खोली जाएगी। कोई भी दो से छह शहरों के लिए बोली लगा सकता है। अहमदाबाद, लखनऊ, इंदौर, कटक, गुवाहाटी और धर्मशाला बोली के लिए उपलब्ध शहर हैं। दो उच्चतम बोली लगाने वालों को टीमें दी जाएंगी।अहमदाबाद का नरेंद्र मोदी स्टेडियम और लखनऊ का इकाना स्टेडियम फ्रेंचाइजी की पसंद हो सकते हैं क्योंकि इन स्टेडियमों की क्षमता अधिक है।

बोर्ड ने बयान में कहा था, ‘‘आईपीएल की संचालन परिषद आईपीएल 2022 सत्र से इंडियन प्रीमियर लीग में हिस्सा लेने के लिए प्रस्तावित दो नई टीमों में से एक का स्वामित्व और संचालन का अधिकार हासिल करने के लिए निविदा प्रक्रिया के जरिए बोली आमंत्रित करती है। ’’

इसमें कहा गया था, ‘‘कोई भी इच्छुक पक्ष जो बोली जमा कराना चाहता है उसे निविदा आमंत्रण खरीदना होगा। हालांकि निविदा आमंत्रण में लिखित पात्रता को पूरा करने वाले और अन्य नियमों और शर्तों को पूरा करने वाले बोली के पात्र होंगे। स्पष्ट किया जाता है कि सिर्फ निविदा आमंत्रण को खरीदने से कोई व्यक्ति बोली लगाने का पात्र नहीं होगा।’’




और भी पढ़ें :