अश्विन की एक भी गेंद नहीं गई सीमा पार, फिर भी पंत ने नहीं दिया चौथा ओवर

Ravichandran Ashwin
Last Updated: शुक्रवार, 16 अप्रैल 2021 (17:19 IST)
नई दिल्ली: के खिलाफ यहां गुरुवार को जीतता हुआ मैच हार जाने वाली पर अपने अनुभवी ऑफ स्पिनर के ओवर पूरे न करवाने को लेकर सवाल उठ रहे हैं। यहां तक कि टीम के कोच ने भी यह बात मानी है कि अश्विन से उनके कोटे के चार ओवर पूरे न करवाना शायद टीम की गलती थी।

पोंटिंग ने मैच के बाद, “ जब मुझे टीम के साथ बैठने का मौका मिलेगा, तब मैं निश्चित रूप से इस बारे में बात करूंगा। अश्विन ने शानदार गेंदबाजी की और 3 ओवर में सिर्फ 14 रन दिए और इस दौरान कोई बाउंड्री भी नहीं लगने दी। बेशक पहले मुकाबले में उनका प्रदर्शन निराशाजनक था, लेकिन उन्होंने यह सुनिश्चित करने के लिए कि उनका चीजों के साथ तालमेल बैठे, पिछले कुछ दिनों में बहुत मेहनत की और दूसरे मैच में चीजों को अपने पक्ष में किया। मेरे हिसाब से उन्होंने बहुत अच्छी गेंदबाजी की और उन्हें पूरे ओवर न देना शायद हमारी एक गलती थी, जिस पर हम बाद में जरूर बात करेंगे। ”

उल्लेखनीय है कि मैच के ज्यादातर हिस्से में दिल्ली कैपिटल्स की गेंदबाजी सटीक रही। गेंदबाजों ने समय-समय पर विकेट चटकाए और राजस्थान रॉयल्स के बल्लेबाजों को मैच में आगे नहीं जाने दिया , हालांकि दिल्ली के शिमरन हेत्माएर को हटा कर एक अतिरिक्त गेंदबाज के रूप में कैगिसो रबादा को टीम में शामिल करने के फैसले की वजह से वह चुनौतीपूर्ण स्कोर से पीछे रह गई।

पोंटिंग ने कहा, “हम हर मैच की स्थिति के आधार पर टीम चुनने की कोशिश कर रहे हैं। जाहिर तौर पर रबादा के चयन के लिए उपलब्ध होने के साथ ही हमने पहले मैच की तुलना में दूसरे मैच में एक-दो बदलाव किए। हम कोशिश कर रहे हैं कि सही संतुलन बना रहे। फिलहाल अक्षर पटेल चयन के लिए उपलब्ध नहीं हैं, इसलिए संतुलन नहीं बन पा रहा है, इसलिए हमने आज कुछ अलग करने की कोशिश की। हम ललित यादव को मौका देना चाहते थे, जिन्होंने हमें दिखाया कि वह कितने सक्षम खिलाड़ी हैं। ”
उनकी जगह टीम के कप्तान ऋषभ पंत ने मार्कस स्टोइनिस से ओवर करवा दिया। स्टोइनिस ने एक ओवर में उतने रन दे दिए जितने अश्विन ने 3 ओवरों में नहीं दिए होंगे।स्टोइनिस ने अपने 1 ओवर में 15 रन दे डाले और यहां से राजस्थान मैच में वापस आता चला गया।(वार्ता)



और भी पढ़ें :