MI vs CSK : चेन्नई सुपरकिंग्स ने मुंबई इंडियंस को 20 रन से हराया, प्वाइंट्स टेबल में टॉप पर पहुंची

Last Updated: सोमवार, 20 सितम्बर 2021 (00:32 IST)
दुबई। सलामी बल्लेबाज ऋतुराज गायकवाड़ के नाबाद अर्द्धशतक के बाद ड्वेन ब्रावो और दीपक चाहर तूफानी गेंदबाजी से इंडियन प्रीमियर लीग में रविवार को यहां मुंबई इंडियन्स को 20 रन से हराकर प्वाइंट्स टेबल में टॉप पर पहुंच गया।
मई में आईपीएल के जैविक रूप से सुरक्षित माहौल में कोविड-19 संक्रमण के कई मामले आने के बाद भारत में सत्र को निलंबित किए जाने के बाद सत्र बहाल होने पर यूएई में पहला मुकाबला था।

चेन्नई के 157 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए मुंबई की टीम ब्रावो (25 रन पर 3 विकेट) और दीपक (19 रन पर 2 विकेट) की धारदार गेंदबाजी के सामने 8 विकेट पर 136 रन ही बना सकी। मुंबई की ओर से सौरभ तिवारी (40 गेंद में नाबाद 50, 5 चौके) ही 20 रन के आंकड़े को पार करने में सफल रहे।
चेन्नई सुपरकिंग्स ने गायकवाड़ (नाबाद 88) के करियर की सर्वश्रेष्ठ पारी के अलावा रविंद्र जडेजा (26) के साथ 5वें विकेट के लिए उनकी 81 और ब्रावो (आठ गेंद में 23, तीन छक्के) के साथ छठे विकेट के लिए 39 रन की साझेदारी से 6 विकेट पर 156 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया।
ALSO READ:
: विराट कोहली का एक और बड़ा फैसला, छोड़ेंगे RCB की कप्तानी
गायकवाड़ ने 58 गेंद का सामना करते हुए 4 छक्के और 9 चौके मारे। उन्होंने ब्रावो के साथ मिलकर ताबड़तोड़ बल्लेबाजी की जिससे सुपरकिंग्स अंतिम 9 ओवर में 109 रन जोड़ने में सफल रहे।
मुंबई की ओर से एडम मिल्ने ने 21, जसप्रीत बुमराह ने 33 और ट्रेंट बोल्ट ने 35 रन देकर दो दो विकेट चटकाए। लक्ष्य का पीछा करने उतरी मुंबई की शुरुआत भी खराब रही और टीम ने पावर प्ले में 41 रन तक ही तीन विकेट गंवा दिए।
क्विंटन डिकॉक (17) ने जोश हेजलवुड पर दो चौके मारे। उन्होंने दीपक पर भी चौका जड़ा लेकिन इस तेज गेंदबाज ने अगली गेंद पर उन्हें पगबाधा कर दिया। मैदानी अंपायर ने डिकॉक को आउट नहीं दिया था लेकिन महेंद्र सिंह धोनी ने तुरंत डीआरएस ले लिया जिसका फैसला गेंदबाज के पक्ष में गया।

अनमोलप्रीत सिंह (16) ने चौथे ओवर में हेजलवुड पर 2 चौके और एक छक्का जड़ा लेकिन अगले ओवर में दीपक ने उन्हें बोल्ड कर दिया। सूर्यकुमार यादव भी तीन रन बनाने के बाद शार्दुल ठाकुर की गेंद पर फाफ डुप्लेसिस को कैच दे बैठे।
ब्रावो ने आते ही इशान किशन (11) को सुरेश रैना के हाथों कैच कराके मुंबई को चौथा झटका दिया। कार्यवाहक कप्तान कीरोन पोलार्ड और तिवारी ने इसके बाद पारी को संभाला। पोलार्ड ने जडेजा पर पारी का पहला छक्का जड़ा जबकि तिवारी ने भी बायें हाथ के इस स्पिनर पर चौका मारा। पोलार्ड 14 गेंद 15 रन बनाने के बाद हेजलवुड की गेंद पर पगबाधा हुए।

कृणाल पंड्या (04) इसके बाद मोईन अली की गेंद पर गैरजरूरी रन लेने की कोशिश में रन आउट हुए जिससे टीम का स्कोर 6 विकेट पर 94 रन हो गया। मुंबई को अंतिम पांच ओवर में जीत के लिए 60 रन की दरकार थी।

ब्रावो के 16वें ओवर में 7 जबकि हेजलवुड के अगले ओवर में सिर्फ चार रन बने। मुंबई को अब तीन ओवर में 49 रन की जरूरत थी। चाहर के अगले ओवर में धोनी ने तिवारी का कैच छोड़ा लेकिन इस ओवर में भी सिर्फ 10 ही रन बने। तिवारी ने 19वें ओवर में शार्दुल पर चौका और मिल्ने (15) ने छक्का जड़कर मुंबई की उम्मीद जीवंत रखी। इस ओवर में 15 रन बने।
मुंबई को अंतिम ओवर में 24 रन की जरूरत थी लेकिन ब्रावो ने सिर्फ तीन रन खर्च करके सुपरकिंग्स को जीत दिला दी। ब्रावो ने इस बीच मिल्ने और राहुल चाहर (00) को पवेलियन भी भेजा जबकि तिवारी ने 40 गेंद में अर्धशतक पूरा किया।
सुपरकिंग्स के कप्तान महेंद्रसिंह धोनी ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया जो सही साबित नहीं हुआ। बोल्ट ने पहले ओवर की पांचवीं गेंद पर ही फाफ डुप्लेसिस (00) को थर्ड मैन पर मिल्ने के हाथों कैच करा दिया।

मोईन अली भी अगले ओवर में खाता खोले बिना मिल्ने की गेंद पर कवर प्वाइंट पर सौरभ तिवारी को कैच दे बैठे। इसी ओवर की अंतिम गेंद अंबाती रायुडू की कोहनी पर लगी और उन्हें रिटायर्ड हर्ट होकर वापस लौटना पड़ा।
सुरेश रैना (04) ने तीसरे ओवर में बोल्ट पर पारी का पहला चौका जड़ा लेकिन इसी ओवर में प्वाइंट पर राहुल चाहर को कैच दे बैठे। इस शॉट के दौरान रैना का बल्ला भी टूट गया। गायकवाड़ ने मिल्ने पर दो जबकि बोल्ट पर एक चौका जड़ा। मिल्ने ने पावर प्ले की अंतिम गेंद पर धोनी (03) को पवेलियन भेजकर सुपरकिंग्स का स्कोर 4 विकेट पर 24 रन किया।

गायकवाड़ और जडेजा ने विकटों के पतन पर विराम लगाया लेकिन पावर प्ले के बाद 11वें ओवर तक कोई बाउंड्री नहीं लगी। गायकवाड़ ने 12वें ओवर में कृणाल पंड्या पर छक्के के साथ बाउंड्री के सूखे को खत्म किया और टीम का स्कोर 50 रन के पार पहुंचाया। इसी ओवर में जडेजा ने भी चौका मारा।
गायकवाड़ और जडेजा के बीच अर्धशतकीय साझेदारी 13वें ओवर में पूरी हुई। गायकवाड़ ने मुंबई के कार्यवाहक कप्तान कीरोन पोलार्ड पर चौके के साथ 41 गेंद में छठा आईपीएल अर्धशतक पूरा किया।

गायकवाड़ ने बुमराह पर छक्का जड़ा लेकिन इस तेज गेंदबाज ने जडेजा को पोलार्ड के हाथों कैच करा दिया। ब्रावो ने आते ही तूफानी तेवर दिखाए। उन्होंने मिल्ने पर छक्का जड़ने के बाद 19वें ओवर में बोल्ट पर तीन छक्के से 24 रन बटोरे।
बुमराह ने अंतिम ओवर में ब्रावो को पैवेलियन भेजा लेकिन गायकवाड़ ने चौका और फिर अंतिम गेंद पर छक्के के साथ टीम का स्कोर 150 रन के पार पहुंचा दिया।



और भी पढ़ें :