5 विकेट चटकाने वाले RCB के हर्षल ने खोला अपने प्रमुख अस्त्र का राज

चेन्नई| Last Updated: शनिवार, 10 अप्रैल 2021 (13:51 IST)

को काफी पहले बता दिया गया था कि उन्हें रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) की तरफ से डेथ ओवरों में मुख्य गेंदबाज की भूमिका निभानी होगी और मुंबई इंडियन्स के खिलाफ इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के उद्घाटन मैच में वह इस पर पूरी तरह से खरे उतरे।
हर्षल ने अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए 27 रन देकर पांच विकेट लिये। इसके अलावा एबी डिविलियर्स ने शानदार पारी खेली जिससे आरसीबी ने दो विकेट से जीत हासिल की।आईपीएल के किसी भी सीजन के पहले मैच में वह 5 विकेट चटकाने वाले गेंदबाज बने।

हरियाणा के इस तेज गेंदबाज मैच के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘जब मुझे आरसीबी ने दिल्ली कैपिटल्स से लिया तो मुझे बता दिया गया था कि फ्रेंचाइजी की तरफ से मेरी क्या भूमिका होगी।’’
डेथ ओवरों में उन्होंने शानदार गेंदबाजी की और कप्तान विराट कोहली ने भी कहा कि हर्षल को पता था कि उनसे इस मुश्किल भूमिका में अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद की जा रही है।

हर्षल ने कहा, ‘‘मेरे लिये स्पष्ट निर्देश थे कि मैं आखिरी दो ओवर (18वां और 20वां ओवर) करूंगा। इससे मैं अपनी भूमिका को लेकर स्पष्ट था। इससे मुझे बल्लेबाजों के खिलाफ रणनीति बनाने में मदद मिली। ’’

उन्होंने कहा कि गति में बदलाव और धीमी यार्कर उनके सबसे मुख्य हथियार हैं।हर्षल ने कहा, ‘‘गेंद ने एक समय रिवर्स स्विंग लेना शुरू कर दिया था। यार्कर और धीमी गेंदें करना महत्वपूर्ण था। ’’
आईपीएल की यही खूबसूरती है। पहले मैच से पहले शायद क्रिकेट फैंस ने हर्षल पटेल का नाम भी नहीं सुना होगा और उनके पहले ओवर को देखकर ऐसा लगा भी नहीं कि आज वह कुछ कमाल कर पाएंगे।

के तेज गेंदबाज हर्षल पटेल की ओर विराट कोहली ने गेंद तब उछाली जब मुंबई इंडियन्स 55 रन पर 1 विकेट खो चुकी थी। पहली ही गेंद हर्षल ने नो बॉल डाल दी। इसके बाद क्रिस लिन ने उनकी गेंद पर छक्का जड़ा। चौथी गेंद पर सूर्यकुमार यादव ने भी उन पर चौका जड़ा। पहले ही ओवर में हर्षल ने 15 रन दे दिए।
इसके बाद किसी को उम्मीद भी नहीं थी कि विराट कोहली दुबारा हर्षल की ओर गेंद उछालेगें। लेकिन उन्होंने तब हर्षल की ओर गेंद उछाली जब मुंबई के ईशान और हार्दिक क्रीज पर मौजूद थे और रन गति को बढ़ाने का प्रयास कर रहे थे क्योंकि सिर्फ 4 ओवर बाकी थे।

लेकिन हर्षल ने अनुभवी हार्दिक और युवा ईशान को छकाया और दोनों को ही पगबाधा आउट कर दिया। मुंबई के लिए रनों की गति अचानक से थम गई। लेकिन असली कमाल हर्षल ने आखिरी ओवरों में किया।

हर्षल ने पहले हार्दिक का विकेट लेने के बाद उनके बड़े भाई क्रुणाल का विकेट लिया। फिर अगली ही गेंद पर कीरन पोलार्ड को भी चलता कर दिया। इसके बाद आईपीएल डेब्यू कर रहे यान्सिन की भी गिल्लियां उखाड़ दी।

आखिरी ओवर का आलम यह था कि बल्लेबाज गेंद पर बल्ला नहीं लगा पा रहा था और बीसवें ओवर की आखिरी गेंद पर सिर्फ 1 रन आ पाया जिससे मुंबई इंडियन्स बैंगलोर को 160 रनों का लक्ष्य दे पायी।




और भी पढ़ें :