कप्तानी फिर अंतिम ग्यारह से हटाया, डेविड वॉर्नर का टीम SRH पर फूटा गुस्सा

devid Warner
Last Updated: मंगलवार, 12 अक्टूबर 2021 (22:50 IST)
हमें फॉलो करें
ऑस्ट्रेलिया के स्टार बल्लेबाज डेविड वॉर्नर ने मंगलवार को दावा किया कि प्रबंधन ने आईपीएल के इस सत्र में उन्हें कप्तानी से हटाने का कोई कारण नहीं बताया। वॉर्नर को आईपीएल के पहले चरण में कप्तानी से हटाकर न्यूजीलैंड के केन विलियमसन को सनराइजर्स की कमान सौंपी गई थी।

कप्तानी बदलने के बावजूद सनराइजर्स के प्रदर्शन में सुधार नहीं आया और टीम आईपीएल अंकतालिका में सबसे नीचे रही। वॉर्नर को आखिरी कुछ मैचों में तो टीम में जगह भी नहीं दी गई। वॉर्नर ने ‘इंडिया टुडे’ से कहा, ‘‘टीम मालिकों, ट्रेवर बेलिस, लक्ष्मण, मूडी और मुरली के प्रति पूरा सम्मान रखते हुए मैं कहूंगा कि कोई भी फैसला सर्वसम्मति से होता है। मेरे लिये निराशाजनक बात यह भी रही कि मुझे बताया ही नहीं गया कि कप्तानी से क्यों हटाया गया है। फॉर्म के आधार पर फैसला लिया गया तो यह कठिन है क्योंकि अतीत के प्रदर्शन को अनदेखा नहीं करना चाहिये।’’

उन्होंने कहा कि कप्तानी से हटाये जाने को पचाना मुश्किल था लेकिन वह आगे बढ़ना चाहते थे। उन्होंने कहा, ‘‘खास तौर पर जब आपने टीम के लिये 100 मैच खेले हों। मुझे लगता है कि चेन्नई में पहले पांच में से चार मैचों में खराब प्रदर्शन रहा । मेरे कुछ सवाल है लेकिन लगता है कि जवाब कभी नहीं मिलेगा । आगे बढना ही होगा।’’

वॉर्नर ने कहा कि वह आगे भी सनराइजर्स के लिये खेलना चाहेंगे लेकिन यह उनके हाथ में नहीं है। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे सनराइजर्स के लिये खेलने में मजा आया। उम्मीद है कि मैं वापिस आऊंगा। सनराइजर्स की जर्सी में या किसी और टीम की, पता नहीं।’’

कप्तानी जाने के बाद बैंच पर बैठाया

आईपीएल के तीन सत्रों में डेविड वॉर्नर ओरेंज कैप होल्डर थे लेकिन आईपीएल का दूसरा भाग वॉर्नर के लिए किसी बुरे सपने जैसा रहा। आईपीएल जब से संयुक्त अरब अमीरात पहुंचा तब से तो उनका बल्ला जैसे रुक सा गया। उन्होंने 2 मैचों में उन्होंने सिर्फ 2 रन बनाए।

दिल्ली कैपिटल्स से खेले गए मुकाबले में वह खाता भी नहीं खोल पाए थे और एनरिच नोर्त्जे ने उन्हें अक्षर पटेल के हाथों कैच आउट करवा दिया था। वहीं आज पंजाब किंग्स के खिलाफ वह सिर्फ 2 रन बनाकर अपना कैच शमी की गेंद पर विकेटकीपर केएल राहुल को कैच थमा बैठे। दोनों ही मौकों पर उन्होंने कुल 3 गेंदे खेली।

इस प्रदर्शन के बाद हैदराबाद की टीम ने उन्हें टीम से बाहर कर दिया और इंग्लैंड के बल्लेबाज जेसन रॉय को मौका दिया।

3 सत्र में रह चुके हैं ओरेंज कैप होल्डर

डेविड वॉर्नर तीन बार आईपीएल में ऑरेंज कैप होल्डर यानि की सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं। साल 2015, साल 2017 और साल 2019 में उन्होंने अपने सिर पर ऑरेंज कैप पहली। 2015 में उन्होंने 14 मैचों में 562 रन बनाए। साल 2017 में उन्होंने 641 रन बनाए और साल 2019 में 692 रन बनाए।

ऐसा रहा है आईपीएल करियर

डेविड वॉर्नर ने इस सत्र में अपना 150वां आईपीएल मैच खेला।उन्होंने अपने आईपीएल करियर में 41.59 की औसत से 5449 रन बनाए हैं। उन्होंने 4 शतक और 50 अर्धशतक जमाए हैं। पूरे आईपीएल में उन्होंने 201 छक्के भी लगाए हैं।



और भी पढ़ें :