BCCI की जिद! कोरोना के डर से खिलाड़ी छोड़ रहे हैं IPL, फिर भी बोर्ड ने कहा जारी रहेगी लीग

Last Updated: सोमवार, 26 अप्रैल 2021 (15:47 IST)
नई दिल्ली: भारत में बढते कोरोना संकट के बीच के सुरक्षित बायो बबल में भी खिलाड़ियों को चिंतित कर दिया है और भारत के अनुभवी आफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन के अलावा कुछ ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों ने लीग बीच में छोड़ दी है जबकि ने कहा है कि खेल जारी रहेगा।
दिल्ली कैपिटल्स के अश्विन ने सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ रविवार को मैच जीतने के बाद ट्वीट किया ,‘‘ मैं कल से इस सत्र के से ब्रेक ले रहा हूं । मेरा परिवार कोरोना महामारी से लड़ रहा है और इस कठिन समय में उसे मेरी मदद की जरूरत है।’’

उन्होंने कहा ,‘‘ अगर हालात सही दिशा में जाते हैं तो मैं वापसी करूंगा । धन्यवाद दिल्ली कैपिटल्स ।’’गौरतलब है कि उनके परिवार का कोई सदस्य कोरोना पॉजिटिव पाया गया है ।
ऑस्ट्रेलिया और राजस्थान रॉयल्स के तेज गेंदबाज एंड्रयू टाये ने भारत में कोरोना मामलों के बढने के कारण अपने देश में प्रवेश निषेध होने की आशंका से आईपीएल बीच में ही छोड़ दिया और दावा किया कि आस्ट्रेलिया के कई क्रिकेटर यह फैसला ले सकते हैं । वहीं रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के केन रिचर्डसन और एडम जाम्पा ने भी निजी कारणों से लीग छोड़ने का फैसला किया ।

आईपीएल के मैच नौ शहरों में दर्शकों के बिना खेले जा रहे हैं।टाये ने कहा कि उनके गृहनगर पर्थ में भारत से जाने वालों के पृथकवास के बढते मामलों के कारण उन्होंने यह फैसला लिया। टाये ने रॉयल्स के लिये अभी तक एक भी मैच नहीं खेला है और उन्हें एक करोड़ रूपये में खरीदा गया था।
टाये ने सोमवार को दोहा से ‘सेन रेडियो’ से कहा ,‘‘ इसके कई कारण है लेकिन मुख्य कारण यह है कि पर्थ में भारत से लौटने वाले लोगों के होटलों में पृथकवास के मामले बढ गए हैं । पर्थ सरकार पश्चिम आस्ट्रेलिया में प्रवेश करने वालों की संख्या में कटौती करने की कोशिश में है।’’

उन्होंने कहा कि बबल में रहने की थकान भी एक कारण है ।उन्होंने कहा ,‘‘ मैने सोचा कि देश में प्रवेश नहीं मिले, उससे पहले ही रवाना हो जाऊं। बबल में लंबा समय बिताना काफी थकाऊ है। अगस्त से अब तक मैं सिर्फ 11 दिन बबल से बाहर रहा हूं और अब घर जाना चाहता हूं।’’
बीसीसीआई ने कहा कि लीग जारी रहेगी। एक अधिकारी ने कहा ,‘‘ आईपीएल जारी रहेगा । कोई छोड़ना चाहता है तो उसमें कोई हर्ज नहीं।’’

वहीं आरसीबी ने एक बयान में कहा ,‘‘ एडम जाम्पा और केन रिचर्डसन निजी कारणों से स्वदेश लौट रहे हैं और बाकी मैचों में नहीं खेलेंगे। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर पूरी तरह से उनके साथ है और हरसंभव मदद कर रहा है ।’’लेग स्पिनर जाम्पा को डेढ करोड़ और रिचर्डसन को चार करोड़ रूपये में खरीदा गया था।
ब्रिटेन और न्यूजीलैंड समेत कई देशों ने भारत से यात्रा पर प्रतिबंध लगा दिया है। ऑस्ट्रेलिया
ने भी उड़ानों में 30 प्रतिशत कटौती कर दी है और आगे प्रतिबंध की आशंका है चूंकि भारत में पिछले कुछ दिनों से तीन लाख मामले रोज आ रहे हैं।

भारत में पिछले कुछ दिन से रोज तीन लाख से अधिक कोरोना मामले आ रहे हैं । आक्सीजन और कुछ जरूरी दवाओं की किल्लत से चिकित्सा तंत्र जूझ रहा है। इससे पहले रॉयल्स के लियाम लिविंगस्टोन भी यात्रा प्रतिबंध लागू होने से पहले ब्रिटेन लौट गए।
क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया और ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर संघ ने संयुक्त बयान में कहा कि वे आईपीएल में शामिल अपने क्रिकेटरों, कोचों और कमेंटेटरों के संपर्क में हैं और हालात पर नजर रखे हुए हैं।इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड के एक प्रवक्ता ने कहा ,‘‘ हम अपने खिलाड़ियों से लगातार संपर्कमें है। इस कठिन समय में हमारी संवेदनायें भारत के लोगों के साथ है।’’

इस बीच कोलकाता नाइट राइडर्स के मेंटर डेविड हसी ने कहा कि आईपीएल में कुछ आस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ‘नर्वस’ हैं कि भारत में कोरोना मामलों के बढने के कारण वे स्वदेश कैसे लौटेंगे।ऑस्ट्रेलिया के पूर्व क्रिकेटर हसी ने ‘सिडनी मार्निंग हेराल्ड’ से कहा ,‘‘ हर कोई थोड़ा नर्वस है कि आस्ट्रेलिया वापिस कैसे जायेगा। ’’
हसी ने कहा कि आईपीएल के लिसे कड़ा बायो बबल बनाया गया है लेकिन भारत की मौजूदा स्थिति को देखकर खिलाड़ियों का चिंतित होना स्वाभाविक है।केन विलियमसन और ट्रेंट बोल्ट समेत न्यूजीलैंड के खिलाड़ियों को दो जून से इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला खेलने के लिये वैसे भी बीच में ही हाना होगा। आईपीएल फाइनल 30 मई को अहमदाबाद में होगा।

ऑस्ट्रेलिया टूर्नामेंट पूरा होने पर अपने खिलाड़ियों के लिये चार्टर्ड विमान का इंतजाम कर सकता है । आस्ट्रेलिया के 14 खिलाड़ी अभी लीग में हैं। उनके अलावा कोच रिकी पोंटिंग और साइमन कैटिच, कमेंटेटर मैथ्यू हेडन, ब्रेट ली, माइकल स्लेटर और लीजा सठालेकर भी यहां हैं।



और भी पढ़ें :