IPL-13 : डैथ ओवरों की कमियों को दूर करने पर काम कर रहे हैं RCB के युजवेंद्र चहल

Yuzvendra Chahal
पुनः संशोधित मंगलवार, 8 सितम्बर 2020 (20:08 IST)
दुबई। भारतीय कप्तान विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (RCB) के लेग स्पिनर (Yuzvendra Chahal) का कहना है कि टीम डैथ ओवरों (Death Overs) की कमियों को दूर करने पर काम कर रही है।
ALSO READ:
Special story : के 12 संस्करण में केवल 3 भारतीय बल्लेबाजों ने 'ऑरेंज कैप' पहनी
विराट के नेतृत्व वाली आरसीबी टीम को कोई बार डैथओवरों में ज्यादा रन लुटाने का नुकसान उठाना पड़ा है। आरसीबी आईपीएल IPL की मजबूत टीमों से एक रही है और उसके पास कई शानदार खिलाड़ी हैं लेकिन उसने 12 सत्रों में अब तक एक बार भी खिताब नहीं जीता है। आईपीएल का 13वां सत्र संयुक्त अरब अमीरात (UAE) में 19 सितंबर से 10 नवंबर तक होना है।
ALSO READ:: Delhi Capitals के रबाडा को लय हासिल करने के लिए ज्यादा अभ्यास की जरूरत
चहल ने कहा, हम डैथ ओवरों में अपनी कमियों को ढूंढने पर काम कर रहे हैं। हमारे पास टीम में डेल स्टेन, नवदीप सैनी, क्रिस मोरिस और उमेश यादव जैसे बेहतरीन तेज गेंदबाज हैं। हम अंतिम ओवरों में गेंदबाजी को लेकर ज्यादा चिंतित नहीं है क्योंकि टीम में सभी तैयार हैं और की पिच स्पिनर के लिए भी मददगार होगी।
उन्होंने कहा कि आरसीबी की टीम में भारतीय और अंतरराष्ट्रीय स्पिनरों का अच्छा मेल है। चहल ने कहा, हमारे पास टीम में वाशिंगटन सुंदर, मोईन अली औऱ शाहबाज अहमद जैसे गेंदबाज हैं। यूएई के तीन आयोजन स्थल दुबई, शारजाह और अबु धाबी की पिचों के लिहाज से यह अच्छा स्पिन आक्रमण है।
कोरोना वायरस के कारण आईपीएल का आयोजन दर्शकों के बिना किया जाएगा। इस पर उन्होंने स्वीकार किया कि दर्शकों के स्टेडियम में मौजूद रहने से ऊर्जा मिलती है लेकिन घरेलू क्रिकेट में खेलने वाले खिलाड़ियों के लिए दर्शकों के बिना खेलना नया नहीं है।
चहल ने कहा, दर्शकों का स्टेडियम में नहीं होना सभी के लिए नुकसान भरा है क्योंकि उनके सर्मथन से हालात अलग हो जाते हैं। हम लोगों में से कई खिलाड़ी प्रथम श्रेणी क्रिकेट में अधिकतर मैचों में दर्शकों के बिना खेलते हैं तो हमें खाली स्टेडियम होने से कोई परेशानी नहीं होगी। (वार्ता)



और भी पढ़ें :