IPL 2020 : बोल्ट और ईशान ने चेन्नई को 10 विकेट से हराकर मुंबई को टॉप पर पहुंचाया

Ishaan Kishan and D Cock
Last Updated: शनिवार, 24 अक्टूबर 2020 (00:07 IST)
शारजाह। (Trent Boult) और (Jaspreet Bumrah) की कहर बरपाती तेज गेंदबाजी के बाद (Ishaan Kishan) के आक्रामक अर्धशतक की मदद से (Mumbai Indians) ने शुक्रवार को (Indian Premier League) के मैच में 3 बार की चैंपियन (Chennai Super Kings) को 10 विकेट से हरा दिया।
टॉस की उछाल से लेकर गेंदबाजी और बल्लेबाजी तक कुछ भी चेन्नई के पक्ष में नहीं रहा। मुंबई के तेज आक्रमण के सामने चेन्नई सुपर किंग्स का शीर्ष क्रम एक बार फिर नेस्तनाबूद हो गया और महेंद्र सिंह धोनी की टीम 9 विकेट पर 114 रन ही बना सकी।

पहले बल्लेबाजी के लिए भेजे जाने पर चेन्नई ने पांच विकेट पावरप्ले के भीतर ही गंवा दिए। इनमें से बोल्ट ने तीन और बुमराह ने दो विकेट लिए। इन शुरूआती झटकों से चेन्नई उबर ही नहीं सकी। जवाब में रोहित शर्मा के बिना उतरी मुंबई ने 12.2 ओवर में बिना किसी नुकसान के लक्ष्य हासिल कर लिया। क्विंटॉन डी कॉक
ने 37 गेंद में पांच चौकों और दो छक्कों की मदद से 46 रन बनाए, जबकि ईशान ने 37 गेंद में 68 रन जोड़े जिनमें पांच छक्के और छह चौके शामिल थे। हैमस्ट्रिंग चोट के शिकार रोहित की जगह कीरोन पोलार्ड ने कमान संभाली थी।

इस जीत के बाद मुंबई दस मैचों में 14 अंक लेकर शीर्ष पर है, जबकि चेन्नई 11 मैचों में सिर्फ छह अंक के साथ आखिरी स्थान पर है। इससे पहले सैम कुरेन के 52 रन नहीं होते तो चेन्नई नौ विकेट पर 114 रन के स्कोर तक भी नहीं पहुंच पाती। कुरेन ने संभलकर खेलते हुए 47 गेंद में दो छक्कों और चार चौकों की मदद से 52 रन बनाए। वह मैच की आखिरी गेंद पर बोल्ड हुए और बोल्ट का चौथा शिकार बने।
बोल्ट ने 18 रन देकर चार विकेट लिए। उन्होंने अपने आखिरी ओवर में 13 रन दिए यानी पहले तीन ओवर में सिर्फ पांच रन ही दिए। बुमराह ने 25 रन देकर दो और लेग स्पिनर राहुल चाहर ने 22 रन देकर दो विकेट चटकाए।
कुरेन ने इमरान ताहिर (नाबाद 13) के साथ नौवें विकेट के लिए 43 रन की साझेदारी की, जो चेन्नई के लिए सबसे बड़ी साझेदारी रही। चेन्नई की शुरूआत बेहद खराब रही और दो ओवर के बाद उसके 3 विकेट 3 रन पर गिर गए थे। पावरप्ले में उसने 2 विकेट और गंवाए।

शेन वॉटसन की जगह खेल रहे ॠतुराज गायकवाड़ खाता खोले बिना बोल्ट के पहले ही ओवर में पगबाधा आउट हुए। अंबाती रायुडू को बुमराह ने शॉर्ट गेंद पर पैवेलियन भेजा जिनका कैच क्विंटॉन डी कॉक ने लपका। एन जगदीशन अगली गेंद पर सूर्यकुमार यादव को कैच देकर लौटे।
इस सत्र में अब तक अच्छा प्रदर्शन करने वाले चेन्नई के इकलौते बल्लेबाज फाफ डु प्लेसिस भी डी कॉक
को कैच देकर रवाना हुए। कप्तान धोनी (16) का खराब फार्म जारी रहा जो राहुल चाहर की गेंद पर छक्का लगाने के बाद फिर बड़ा शॉट खेलने के प्रयास में आउट हुए। रवींद्र जडेजा (7) को बोल्ट ने क्रुणाल पांड्‍या के हाथों लपकवाया।



और भी पढ़ें :