मंगलवार, 31 जनवरी 2023
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. अंतरराष्ट्रीय
  4. USA, Tornedo, Climate Change, Strom, National Weather
Written By
Last Updated: मंगलवार, 14 दिसंबर 2021 (16:24 IST)

क्या होता है Tornedo तूफान, जिसने अमेरिका में मचाई तबाही, क्‍यों इन्‍हें लेकर वैज्ञानिकों के अनुमान हो जाते हैं फेल

तूफान के अंदर एक बहुत ही शक्तिशाली ऊपर उठने वाली हवा एक क्षैतिज घूमने वाला हवा का बेलन बनाती है। ऊपर उठने वाली हवा घूमने वाले बेलन को उठा देती है। हवा का यह बेलन नीचे पतला होता है, और उपर की ओर चौड़ा होकर खिंचने के साथ बहुत तेजी से घूमने लगाता जिसे टोरनेडो कहते हैं।

पिछले कुछ समय से प्रकृति अपना विनाशकारी चेहरा दिखा रही है। अमेरिका में टोरनेडो ने जो तबाई मचाई, यह उसी का एक उदाहरण है। अमेरिका में आए टोरनेडो के बारे में कई तरह की रिसर्च की गई है। जिससे इसके विनाशकारी, तेज और तबाही का सिर्फ एक अंदाजा लगाया जा सकता है।

इन तूफानों के बारे में वैज्ञानिकों की तरफ से यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि आखिर ये विनाशकारी तूफान पैदा कैसे होते हैं, यही वजह है कि इनका अनुमान लगाना मुश्‍किल है और भारी तबाही हो जाती है।

अमेरिका के केंचुकी में टोरनेडो ने कोहराम मचाया हुआ है। 200 किलोमीटर के दायरों में आए इन तूफानों में करीब 200 लोग मारे गए। इन टोरेनेडो ने अपने सामने आने वाली हर चीज को तहस नहस कर दिया।
टोरनेडो अमेरिका में आम किस्म की विनाशकारी मौसमी तूफान होते हैं,  लेकिन ये दुनिया के बहुत से तूफानों से अलग भी होते हैं।

नेशनल वेदर सर्विस के मुताबि‍क टोरनेडो दुनिया में कभी आ सकते हैं, लेकिन अमेरिका में ये सबसे ज्यादा संख्या में आते हैं। अमेरिका में ही सबसे ज्यादा टोरनेडो कांसस, ओकलाहोमा, टेक्सास जैसे मैदानी इलाकों में ज्यादा आते हैं,लेकिन इसका बाद भी वे रॉकी पर्वत शृंखला वाले क्षेत्रओं में काफी आम हैं।

वहीं अमेरिका की नेशनल ओसियानिक एंड एटमॉस्फियरिक एडमिनिस्ट्रेशन (NOAA) का हिस्सा नेशनल स्ट्रॉम लैबोरेटरी के अनुसार बहुत से टोरेनेडो रहस्य ही रह जाते हैं। घातक होने के साथ उनका पूर्वानुमान लगाना मुश्किल हैं।

NOAA की रिपोर्ट के मुताबिक तूफान के अंदर एक बहुत ही शक्तिशाली ऊपर उठने वाली हवा एक क्षैतिज घूमने वाला हवा का बेलन बनाती है। ऊपर उठने वाली हवा घूमने वाले बेलन को उठा देती है। हवा का यह बेलन नीचे पतला होता है, और उपर की ओर चौड़ा होकर खिंचने के साथ बहुत तेजी से घूमने लगाता जिसे टोरनेडो कहते हैं।

अधिकांश टोरनेडो प्रचंड तूफान होते हैं, जिसमें हवा 500 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से बहती है। वे अपने आसपास के 50 मील लंबे और एक मील चौड़े रास्ते में आने वाली हर चीज को तहस नहस कर देते हैं। 11 दिसंबर को आए केंचुकी विनाशाकारी तूफान जमीन पर 227 मील तक रहा था जो एक नया रिकॉर्ड बन जाएगा।