आतंक की दुनिया में 'क्राउन ऑफ टेरर' के नाम से जाना जाता था हमजा लादेन, सिर पर था 7 करोड़ का इनाम

Terrorist Hamza Laden
Last Updated: गुरुवार, 1 अगस्त 2019 (09:17 IST)
अमेरिकी खुफिया एजेंसी के दावे के मुताबिक अलकायदा के संस्थापक आतंकी के बेटे हमजा की मौत हो गई है। ने फरवरी में हमजा के ठिकाने की जानकारी देने वाले को 10 लाख डॉलर (7 करोड़ रुपए) के इनाम की घोषणा की थी। इतना ही नहीं आतंक की दुनिया में उसे 'क्राउन ऑफ टेरर' के नाम से भी बुलाया जाता था।
खबरों के मुताबिक, अमेरिकी खुफिया एजेंसी ने दावा किया है कि अलकायदा के संस्थापक ओसामा बिन लादेन के बेटे हमजा की मौत हो गई है। हालांकि हमजा की मौत की तारीख और स्थान अभी तक नहीं बताया गया है। हमजा ओसामा बिन लादेन की तीसरी बीवी खैरिया सबर का बेटा है। उसकी उम्र लगभग 23 से 24 साल है।

अमेरिकी सरकार ने फरवरी में हमजा के ठिकाने की जानकारी देने वाले को 10 लाख डॉलर (7 करोड़ रुपए) के इनाम की घोषणा की थी। साल 2011 में ओसामा बिन लादेन के मारे जाने के बाद ओसामा के सबसे छोटे बेटे हमजा बिन लादेन ने अमेरिका को खुली चुनौती दे दी थी। इस दौरान उसने अमेरिका, ब्रिटेन, तेल अवीव के साथ अमेरिका का साथ देने वाले सभी देशों पर बड़े हमले की अपील की थी।

हमजा को ब्रिटिश सांसद पैट्रिक मर्सर ने 'क्राउन ऑफ टेरर' यानी 'आतंक का नया युवराज' नाम दिया था। साल 2003 में अफगानिस्‍तान के रिबत में हमजा और उसके भाई साद बिन लादेन के घायल होने की खबरें थीं। साल 2007 में हमजा अलकायदा के एक सीनियर सदस्‍य के तौर पर पाकिस्‍तान-अफगानिस्‍तान सीमा से फरार हो गया था। बताया जाता है कि दिसंबर 2007 में पूर्व पाकिस्तानी प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्टो की हत्‍या में भी उसका हाथ होने का संदेह जताया गया था।



और भी पढ़ें :