आतंकवाद के आठ दोषियों को फांसी पर लटकाएगा पाक

Nithari murder case, hanging, hangman
कराची| Last Updated: रविवार, 4 जनवरी 2015 (22:31 IST)
हमें फॉलो करें
इस्लामाबाद। एक पाकिस्तानी निरोधक अदालत ने आतंकवाद के आठ दोषियों के खिलाफ फांसी की सजा का वारंट जारी किया। पेशावर स्कूल हमले के बाद आतंकवाद से संबंधित मामलों में मौत की सजा पर सरकार द्वारा अनाधिकारिक रोक हटाने के बाद अदालत ने यह वारंट जारी किया।
‘डान’ ने खबर दी कि अदालत ने दो जातीय हिंसा मामलों में लश्कर ए झांगवी के चार आतंकवादियों मोहम्मद शाहिद हनीफ, मोहम्मद ताल्हा हुसैन, खलील अहमद और मोहम्मद सईद को फांसी पर लटकाने के वारंट जारी किए गए।
 
हनीफ, हुसैन और अहमद को जुलाई 2001 में रक्षा मंत्रालय के एक अधिकारी की हत्या मामले में अप्रैल 2002 में मौत की सजा सुनाई गई थी जबकि सईद को एक सेवानिवृत्त पुलिस उपाधीक्षक तथा उनके छोटे बेटे की हत्या के लिए अप्रैल 2001 में मृत्युदंड दिया गया था।
 
अदालत ने अलकायदा के सदस्य जुल्फिकार अली के खिलाफ मौत की सजा का वारंट भी जारी किया, जिन्हें फरवरी 2003 में कराची में अमेरिकी वाणिज्य दूतावास के पास दो पुलिसकर्मियों की हत्या के लिए मार्च 2004 में सजा सुनाई गई थी।
 
दो अन्य दोषी अप्रैल 2003 में एक वकील की हत्या मामले में दोषी बेहरम खान और एक नाबालिग लड़के की हत्या के लिए जून 2003 में सजा पाने वाले शाफकत हुसैन हैं।
 
एक अन्य दोषी अहमद अली हैं, जिन्हें सात जनवरी को फांसी पर लटकाया जाएगा। उन्हें तीन लोगों की हत्या के लिए 1998 में सजा दी गई थी। दोषियों को 13, 14, 15 जनवरी को फांसी पर लटकाया जाएगा। (भाषा)



और भी पढ़ें :