दक्षिण चीन सागर पर चीन की हरकतों से भारत चिंतित

वाशिंगटन| पुनः संशोधित मंगलवार, 17 मई 2016 (11:32 IST)
वाशिंगटन। पेंटागन का कहना है कि सागर के महत्वपूर्ण जलमार्ग को खतरे में डालने वाली कोई भी गतिविधि और अमेरिका जैसे देशों की चिंता का विषय है।
 
पेंटागन के प्रेस सचिव पीटर कुक ने कहा कि दक्षिण चीन सागर का महत्वपूर्ण जलमार्ग वैश्विक व्यापार के लिए है। जो कुछ भी इसे खतरे में डालेगा, वह निश्चित तौर पर अमेरिका के लिए चिंता का विषय होगा।
 
कुक ने कहा कि हमारा मानना है कि क्षेत्र के अन्य देश भी चिंतित हैं और इन देशों में भारत भी शामिल है।
 
उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर अमेरिकी रक्षा मंत्री एश्टन कार्टर की हालिया भारत यात्रा के दौरान चर्चा की गई थी। उन्होंने कहा कि जब रक्षामंत्री भारत में थे, तब उन्होंने इसपर चर्चा की थी कि दुनिया के उस हिस्से में चीन की गतिविधियों से क्षेत्र के कई देशों के बीच सवाल उठे हैं।
 
उन्होंने कहा कि भारत के अपने हित हैं, उसकी नौवहन की अपनी स्वतंत्रता है। मेरा मानना है कि रक्षामंत्री को लगता है कि भारत इन मुद्दों पर अपने लिए बोल सकता है। (भाषा) 



और भी पढ़ें :