रविवार, 14 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. अंतरराष्ट्रीय
  4. Maldives government's statement regarding Indian Coast Guard
Last Modified: माले , शनिवार, 3 फ़रवरी 2024 (19:47 IST)

हमारे क्षेत्र में अपने तटरक्षक बल की जानकारी दे भारत : मालदीव सरकार

Mohammad Muizzu
Maldives government's statement regarding Indian Coast Guard : मालदीव की सरकार ने औपचारिक रूप से भारत सरकार से उस घटना का व्यापक विवरण प्रदान करने का अनुरोध किया है, जिसमें भारतीय तटरक्षक बल के कर्मी कथित तौर पर द्वीपीय देश के आर्थिक क्षेत्र के भीतर संचालित 3 मछली पकड़ने वाले जहाजों पर चढ़ गए थे।
 
यह घटनाक्रम दोनों देशों के बीच उस कूटनीतिक विवाद में नवीनतम है, जिसके कारण राष्ट्रपति मोहम्मद मुइज्जू के पिछले साल नवंबर में मालदीव में सत्ता में आने के बाद द्विपक्षीय संबंधों में तनाव पैदा हो गया था। मुइज्जू को व्यापक रूप से चीन समर्थक नेता के रूप में देखा जाता है। मालदीव के आरोपों पर भारत सरकार की तरफ से तत्काल कोई प्रतिक्रिया नहीं दी गई है।
मालदीव के रक्षा मंत्रालय ने शुक्रवार को एक बयान में दावा किया कि 31 जनवरी को भारतीय सेना ने मालदीव के विशेष आर्थिक क्षेत्र (ईईजेड) के भीतर मछली पकड़ने की गतिविधियों में लगी मालदीव की एक मछली पकड़ने वाली नौका को रोक लिया जो कि धिद्धो, हा अलीफू एटोल से 72 समुद्री मील उत्तर पूर्व में स्थित है।
 
अंतरराष्ट्रीय समुद्री कानूनों और नियमों का हुआ उल्लंघन : इसमें कहा गया है कि भारतीय सैनिक संबंधित अधिकारियों से पूर्व परामर्श के बिना मालदीव के ईईजेड के भीतर मछली पकड़ने वाली तीन नौकाओं पर सवार हो गए, जिससे अंतरराष्ट्रीय समुद्री कानूनों और नियमों का उल्लंघन हुआ। इसमें कहा गया, परिणामस्वरूप, मालदीव सरकार ने विदेश मंत्रालय के माध्यम से एक आधिकारिक पहल की है, जिसमें भारत सरकार से घटना का व्यापक विवरण मांगा गया है।
 
बयान में कहा गया है कि भारतीय तटरक्षक जहाज 246 और भारतीय तटरक्षक जहाज 253 की बोर्डिंग टीम मछली पकड़ने वाली नौकाओं पर सवार लोगों से पूछताछ के लिए जिम्मेदार थीं। (भाषा)
Edited By : Chetan Gour 
ये भी पढ़ें
PM नरेन्द्र मोदी के रहते वाराणसी में मस्जिद खड़ी रहे यह ठीक नहीं