ट्‍वीट के कारण विरोध का सामना कर रही हैं भारतीय मूल की नीरा टंडन

Last Updated: सोमवार, 7 दिसंबर 2020 (15:21 IST)
वॉशिंगटन। अमेरिका के अगले राष्ट्रपति के तौर पर निर्वाचित द्वारा प्रबंधन एवं बजट कार्यालय (ओएमबी) के निदेशक पद पर नामित भारतीय मूल की नीरा टंडन को रिपब्लिकन पार्टी और वामपंथ की ओर झुकाव रखने वाले कुछ डेमोक्रेटिक नेताओं के खिलाफ आक्रामक एवं विवादित ट्वीट के कारण विरोध का सामना करना पड़ रहा है।
रिपब्लिकन पार्टी के कुछ वरिष्ठ नेताओं ने टंडन को नामित किए जाने का सार्वजनिक रूप से विरोध किया है। इस बीच, कुछ सुधारवादी डेमोक्रेट का मानना है कि टंडन का नामांकन इस बात की परीक्षा होगा कि वामपंथी बिडेन के इस चयन को चुनौती देंगे या नहीं।

दरअसल, राष्ट्रपति पद के चुनाव में डेमोक्रेटिक उम्मीदवार रह चुकीं हिलेरी क्लिंटन की निकट सहयोगी रहीं टंडन ने अमेरिका की पूर्व विदेश मंत्री के डेमोक्रेटिक आलोचकों के खिलाफ आक्रामक टिप्पणियां की थीं। वामपंथी सीनेटर बर्नी सैंडर्स के लिए भाषण लिखने का काम कर चुके डेविड सिरोटा ने कहा कि यदि टंडन (वामपंथियों की) चुनौती के बिना ओएमबी के लिए चुन ली जाती हैं, तो इसका अर्थ यह होगा कि सुधारवादी बिडेन को चुनौती ही नहीं देना चाहते।

सैंडर्स ने टंडन को नामित किए जाने के खिलाफ सार्वजनिक तौर पर कुछ नहीं कहा है, लेकिन एलिजाबेथ वारेन और शेरोड ब्राउन जैसे उदारवादी सीनेटरों ने अपना समर्थन जताया है। दूसरी ओर रिपब्लिकन सीनेटर, सीनेट के कई सदस्यों के खिलाफ नीरा की पुरानी आक्रामक एवं अपमानजनक टिप्पणियों से नाराज हैं।

उल्लेखनीय है कि 50 वर्षीय टंडन की नियुक्ति को अगर सीनेट की मंजूरी मिल जाती है तो अमेरिका के प्रबंधन एवं बजट कार्यालय का नेतृत्व करने वाली पहली अश्वेत एवं भारतीय मूल की महिला होंगी। ओएमबी की जिम्मेदारी अमेरिकी राष्ट्रपति के विचारों को कार्यपालिका की सभी शाखाओं में लागू कराने एवं देखरेख की होती है।

यह खासतौर पर राष्ट्रपति की नीतिगत बैठकों, बजट, प्रबंधन, नियामक उद्देश्य और एजेंसियों की स्थाई जिम्मेदारी को पूरा करने में मदद करता है। टंडन का करियर पेशेवर परिवारों को आर्थिक विकास के आधार पर मदद करने और असमानता को दूर करने की नीतियों को बनाने पर केंद्रित रहा है।

प्रभावशाली सीनेटर और सीनेट इंडिया कॉकस के सह अध्यक्ष जॉन कार्निन ने टंडन के नामांकन को बिडेन का अब तक का सबसे खराब नामांकन करार दिया है। उन्होंने कहा, मेरा मानना है कि सीनेट के सदस्यों खासतौर पर हमारे पक्ष के सदस्यों के खिलाफ उनकी ‘आक्रामक और अपमानजनक’ टिप्पणियां उनके नाम की पुष्टि करने की राह में मुश्किल खड़ी करेंगी।

कॉर्निन ने कहा, टंडन ने गत कुछ हफ्तों में पूर्व में किए गए कई ट्वीट को हटाया है जो बचकाना लगता है, ऐसा लगता है कि इससे उन ट्वीट तक लोगों की पहुंच नहीं होगी।उन्होंने आरोप लगाया कि नीरा ने रिपब्लिकन पार्टी सदस्यों की आलोचना करने वाले ट्वीट सहित एक हजार से अधिक ट्वीट हटाए हैं।

टंडन के ट्विटर पर 3,13,400 फॉलोअर हैं और वह इस मंच पर काफी सक्रिय हैं। पूर्व में नीरा रिपब्लिकन सीनेटरों और राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की कड़ी आलोचक रही हैं। अमेरिका में रिपब्लिकन पार्टी की नेता निक्की हेली ने कहा कि बिडेन द्वारा प्रबंधन और बजट कार्यालय की निदेशक के तौर पर नीरा टंडन को नामित करने का फैसला काफी चिंतित करने वाला है क्योंकि उन्होंने अतीत में कई गलत निर्णय लिए थे।

हेली ने एक ट्वीट में कहा, टंडन पूर्व में कई बार गलत फैसले कर चुकी हैं। उन्होंने कहा था कि डोनाल्ड ट्रंप अमेरिका के खिलाफ साजिश में शामिल थे और कई बार रिपब्लिकन सांसदों को नीचा दिखाने का प्रयास किया। टंडन बस अपनी नीति पर काम करती हैं। यही कारण है कि जो बिडेन द्वारा उन्हें नामित किया जाना चिंता की बात है।टंडन ने अपने एक ट्वीट में सीनेट में बहुमत दल के नेता मिच मैक्कॉनेल का उल्लेख ‘मॉस्को मिच’ के तौर पर किया था।

‘वॉशिंगटन इक्जामिनर’ के मुताबिक टंडन ने नामांकन की पुष्टि के लिए जरूरी मत हासिल करने में मुश्किल को भांपते हुए एक हजार ट्वीट हटाए हैं जिनमें मध्यमार्गी रिपब्लिकन सीनेटर सुजैन कोलिंस के खिलाफ किए ट्वीट भी शामिल हैं। रिपब्लिकन व्हिप सीनेटर जॉन थुने ने आरोप लगाया कि टंडन पूर्व में कुछ मामलों पर पक्षपाती थीं।

नव निर्वाचित राष्ट्रपति बिडेन ने टंडन को नामित करने के अपने फैसले का बचाव किया। बिडेन ने एक ई-मेल में अपने समर्थकों से कहा, नीरा टंडन हर मोर्चे पर खुद को साबित कर चुकी हैं और वह प्रबंधन एवं बजट कार्यालय की अगली निदेशक होंगी। अमेरिका के कामकाजी परिवारों की मदद करने के लिए नीतियां तैयार करने में उन्होंने अग्रणी भूमिका निभाई है।(भाषा)



और भी पढ़ें :