पाकिस्तान में फिर हिंदू लड़की का अपहरण, जबरन कराया धर्मांतरण

कराची| पुनः संशोधित मंगलवार, 3 सितम्बर 2019 (21:54 IST)
कराची। के सिंध प्रांत में एक हिंदू लड़की को अगवा करके उसे इस्लाम में धर्मांतरित कराने का एक नया मामला सामने आया है। एक ही सप्ताह में हिंदू लड़की के जबरन का यह दूसरा मामला है।


एक गैर लाभकारी संगठन ऑल पाकिस्तान हिंदू पंचायत ने फेसबुक पोस्ट में दावा किया कि रेणुका कुमारी को 29 अगस्त को सुक्कूर के इंस्टीट्यूट ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन से अगवा किया गया है।

एक अधिकारी ने बताया कि रेणुका को संस्थान से अगवा किया गया है। वह वहां से बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में स्नातक की पढ़ाई कर रही थी। उन्होंने कहा कि हमारी जानकारी के मुताबिक यह सिंध प्रांत में हिंदू लड़की को अगवा करने और जबरन इस्लाम में धर्मांतरित करने का दूसरा मामला है।

लड़की के भाई ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। उसने कहा कि कहा जाता है कि अगवा करने में साथ में पढ़ने वाला छात्र बाबर अमन का हाथ है। पुलिस ने उसके भाई को गिरफ्तार कर लिया है।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि वे मामले की जांच कर रहे हैं और अभी यह पता नहीं चल सका है कि लड़की अपने आप गई है अथवा उसे अगवा किया गया है।
पाकिस्तान में हिंदू लड़की को अगवा करके किसी मुस्लिम युवक से शादी कराने से पहले जबरदस्ती इस्लाम कबूल कराने के अनेक मामले सामने आते रहते हैं। जबरन धर्मांतरण के विरोध में हिंदू समुदाय के नेता तथा अन्य लोगों ने सिंध में विरोध प्रदर्शन किया।

गौरतलब है कि पिछले सप्ताह 19 साल की एक सिख लड़की को अगवा कर उसे इस्लाम में धर्मांतरित कर एक मुसलमान युवक से उसका विवाह करा दिया गया था।
पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिन्दर सिंह ने पाकिस्तान में सिख लड़की के जबरन धर्मांतरण और विवाह को लेकर मंगलवार को चिंता जताते हुए कहा कि पड़ोसी देश को अल्पसंख्यकों के अधिकारों की रक्षा करनी चाहिए।




और भी पढ़ें :