ईरानी सेना का कबूलनामा, गलती से यूक्रेनी विमान पर लगा निशाना, गई थी 176 लोगों की जान

पुनः संशोधित शनिवार, 11 जनवरी 2020 (10:23 IST)
8 जनवरी को तेहरान में हादसे को लेकर ईरानी सेना ने अपनी गलती मानी है। ईरानी सेना ने कहा कि मानवीय गलती के कारण यह हादसा हुआ है। विमान हादसे में 176 लोगों की मौत हो गई थी। कासिम सुलेमानी की मौत का बदला लेते हुए ईरान ने इराक में स्थित अमेरिकी सैन्य ठिकानों पर मिसाइलें दागी थीं। कासिम के बाद ही अमेरिका और ईरान में तनाव बना हुआ है।
ALSO READ:
ईरानी की चपेट में आया था यूक्रेन का विमान
ईरान के विदेश मंत्री ने ट्‍वीट कर मारे गए लोगों के परिवारों से माफी मांगी है। जरीफ ने ट्‍वीट में कहा कि अमेरिका के दुस्साहस से संकट के समय मानवीय गलती के कारण यह बड़ी घटना हुई। हमें गहरा अफसोस है। सभी पीड़ित परिवारों और इससे प्रभावित देशों के लोगों से हम माफी मांगते हैं।
कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो समेत पश्चिमी दुनिया के कई नेताओं ने कहा था कि इस बात के सबूत हैं कि ईरानी मिसाइल ने यूक्रेन के यात्री विमान को गलती से मार गिराया था।



और भी पढ़ें :