मिशेल ओबामा के भाषण की चोरी के विवाद में फंसी मेलानिया ट्रंप

क्लेवलैंड| पुनः संशोधित मंगलवार, 19 जुलाई 2016 (23:44 IST)
हमें फॉलो करें
क्लेवलैंड।  अमेरिका में रिपब्लिकन पार्टी के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के लिए आज उस वक्त शर्मिंदगी की स्थिति पैदा हो गई, जब उनकी पत्नी मेलानिया पर आरोप लगा कि उन्होंने रिपब्लिक नेशनल कन्‍वेंशन में जो दिया उसका एक बड़ा हिस्सा 2008 के मिशेल ओबामा के संबोधन का था, जिसे मेलानिया ने हूबहू उठा लिया।
राष्ट्रपति उम्मीदवार के तौर पर पति की पैरवी करते हुए मेलानिया ने जो भाषण दिया, उसकी जमकर वाहवाही हुई, लेकिन कुछ देर बाद चोरी का नकारात्मक पहलू सामने आया। मेलानिया के भाषण का एक हिस्सा बिल्कुल वही था, जो मिशेल ने आठ साल पहले डेमोकैट्रिक नेशनल कन्वेंशन में दिया था।
 
अपने संबोधन में 46 वर्ष की मेलानिया ने कहा, ‘काफी कम उम्र से मेरे माता-पिता ने मुझमें वो मूल्य डाले कि आप जो जिंदगी में हासिल करना चाहते हैं उसके लिए कड़ी मेहनत करिए, आप जो कहते हैं वैसा करिए और अपने वादे पर कायम रहिए, लोगों से सम्मान के साथ व्यवहार करिए। उन्होंने अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में मुझे मूल्यों और नैतिकताओं के बारे में पढ़ाया। मैंने यही पाठ हमारे बेटे को पढ़ाना जारी रखा है।’ कुछ ऐसी पंक्तियां मिशेल ने भी अपने संबोधन में कही थीं। 
 
मंगलवार के दिन भारत के नेशनल टीवी चैनलों पर पहले मिशेल ओबामा का संबोधन दिखाया गया और फिर मेलानिया के भाषण का हिस्सा। मेलानिया वही दोहरा रहीं थी, जो मिशेल पहले कह चुकी थीं। सबसे मजेदार बात तो यह देखी गई कि मिशेल अपना भाषण बिना पढ़े मन से दे रहीं थी, जबकि मेलानिया की गर्दन एक तरफ थी, जिससे साफ जाहिर हो रहा था कि वे पढ़कर बोल रहीं हैं। (भाषा/वेबदुनिया) 



और भी पढ़ें :