0

महाराणा प्रताप जयंती: जानिए उनकी वीरता और शौर्य का समग्र इतिहास...

शनिवार,जून 12, 2021
0
1
एक जुलाहा स्वभाव से अत्यंत शांत, नम्र तथा वफादार था। उसे क्रोध तो कभी आता ही नहीं था। एक बार कुछ लड़कों को शरारत सूझी।
1
2
भारत के इतिहास की श्रेष्ठ योद्धा रानियों में शुमार हैं महारानी अहिल्याबाई होल्कर। आज उनकी 296 वीं जयंती है। महारानी अहिल्याबाई होलकर का नाम आज भी पूरे अदब से मालवा क्षेत्र में लिया जाता है। वह एक बेशुमार योद्धा थी। अहिल्याबाई होल्कर के शासनकाल के ...
2
3
28 मई 1883 को नासिक के भगूर गांव में जन्मे विनायक दामोदर सावरकर स्वतंत्रता सेनानी एवं प्रखर राष्ट्रवादी नेता थे। जानिए उनके जीवन की ये 10 खास बातें-
3
4
वीर सावरकर विश्वभर के क्रांतिकारियों में अद्वितीय थे। उनका नाम ही भारतीय क्रांतिकारियों के लिए उनका संदेश था।
4
4
5
पंडित जवाहरलाल नेहरू का जन्म 14 नवंबर, 1889 को इलाहाबाद में हुआ।
5
6
राजा राम मोहन राय का जन्म पश्चिम बंगाल में हुगली जिले के राधानगर गांव में हुआ था। उनकी प्रारंभिक शिक्षा गांव में हुई। राजा राम मोहन राय ने शिक्षा खासकर स्त्री-शिक्षा का समर्थन किया।
6
7
भारतरत्न राजीव गांधी भारत की महान नेत्री स्व. इंदिरा गांधी व फिरोज गांधी के पुत्र व भारत के प्रथम प्रधानमंत्री व आधुनिक भारत के निर्माता पं. जवाहरलाल नेहरू के नाती थे।
7
8
गोखले का जन्म एक साधारण परिवार में हुआ था और उनके पिता कृष्ण राव पेशे से क्लर्क थे। अपनी शिक्षा दीक्षा के दौरान वे अत्यंत मेधावी छात्र थे। पढ़ाई में सराहनीय प्रदर्शन के लिए जब
8
8
9
महाराणा प्रताप की जयंती विक्रमी संवत् कैलेंडर के अनुसार प्रतिवर्ष ज्येष्ठ मास के शुक्ल पक्ष तृतीया को मनाई जाती है।
9
10
मोतीलाल नेहरू का जन्म 6 मई, 1861 को हुआ था। उनके पिता का नाम गंगाधर था। भारत के स्वतंत्रता आंदोलन में मोतीलाल नेहरू ही एक ऐसे व्यक्ति थे
10
11
तात्या टोपे भारत के महान स्वतंत्रता सेनानी में से एक गिने जाते हैं। भारत को अंग्रेजों से आजाद कराने में उनकी अहम भूमिका रही है। 1857 की क्रांति में अहम भूमिका निभाने वाले तात्या
11
12
डॉ. बाबासाहेब आम्बेडकर (डॉ॰ भीमराव रामजी आम्बेडकर) बहुआयामी व्यक्तित्व के धनी थे। उन्होंने अपने बहुआयामी व्यक्तित्व के कारण न केवल भारत में, बल्कि विश्व में भारत की नाम अलौकित किया। आओ जानते हैं उनके संबंध में 10 खास बातें।
12
13
महात्मा ज्योतिबा फुले का जन्म 11 अप्रैल 1827 को पुणे में हुआ था।उनकी माता का नाम चिमणाबाई तथा पिता का नाम गोविंदराव था।
13
14
छत्रपति शिवाजी महाराज का नाम भारत के उन वीर सपूतों में शुमार है जिन्होंने अपनी वीरता और पराक्रम के दम पर मुगलों को घुटने टेकने पर विवश कर दिया था।
14
15
वर्ष 2021 में छत्रपति शिवाजी महाराज की जयंती तिथि के अनुसार 31 मार्च को मनाई जाएगी। इस बार कोरोना के कारण सादगी से शिवजयंती मनाना उचित रहेगा
15
16
आज गणेश शंकर विद्यार्थी का बलिदान दिवस है। वे भीड़ से अलग थे, उससे घबराते नहीं थे। इसीलिए पत्रकारिता जगत में भी उनका अलग और सम्मानपूर्वक लिया जाता है। उनका जन्म 26 अक्टूबर 1890 को अतरसुइया में हुआ था। उन्होंने 16 वर्ष की उम्र में ही अपनी
16
17
404 पृष्ठ की यह मूल डायरी आज भगतसिंह के पौत्र भतीजे बाबरसिंह संधु के पुत्र यादविंदरसिंह के पास है, जिसे उन्होंने अनमोल धरोहर के रूप में संजोकर रखा है। दिल्ली के नेहरू मेमोरियल म्यूजियम में इस डायरी की प्रति भी उपलब्ध है, जबकि राष्ट्रीय संग्रहालय में ...
17
18
आज देश के लिए लड़ते हुए अपने प्राणों को हंसते-हंसते न्यौछावर करने वाले तीन वीर सपूतों का शहीद दिवस है। 23 मार्च यानि क्रांतिकारी वीर भगत सिंह, राजगुरु, सुखदेव का बलिदान दिवस
18
19
राममनोहर लोहिया का जन्म 23 मार्च 1910 को फैजाबाद में हुआ था। उनके पिताजी हीरालाल पेशे से अध्यापक व हृदय से सच्चे राष्ट्रभक्त थे। राममनोहर लोहिया
19