कोरोना वैक्सीन के बाद इन 5 लक्षणों पर रखें नजर, जानिए हेल्थ मिनिस्ट्री की एडवाइजरी

Covishield vaccine
का प्रकोप कब तक जारी रहेगा? कब यह महामारी पूरी तरह से खत्म होगी? इस पर लगातार शोध जारी है। लेकिन इससे बचाव के लिए वर्तमान में 4 चीजें ही है- सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क, सैनिटाइजर और वैक्सीनेशन। वैक्सीनेशन के कुछ साइड इफेक्ट्स जरूर है लेकिन कुछ गंभीर साइड इफेक्ट्स सामने आ रहे हैं जिसमें खून के थक्के जमने की समस्या दिख रही है।
इसे लेकर स्वास्थ्य परिवार और कल्याण मंत्रालय ने वैक्सीन के साइड इफेक्ट को लेकर एडवाइजरी जारी की है, जिसमें लोगों से 20 दिन के अंदर ब्लड क्लॉटिंग की समस्या होने पर तुरंत वैक्सीनेशन सेंटर पर शिकायत दर्ज कराने की बात कही है।
बता दें कि यह एडवाइजरी विशेष रूप से उन लोगों के लिए है जिन्होंने कोविशील्ड वैक्सीन ली है। क्योंकि एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन से खून के थक्के जमने के मामले सामने आ रहे हैं जिसे लेकर कई देशों ने चिंता भी जताई है।

कोविशील्ड वैक्सीन के बाद इसके प्रमुख लक्षणों पर इस प्रकार ध्यान दें -


- सांस फूलना
- सांस लेने में तकलीफ होना/सीने में दर्द
- अंगों में सूजन, अंगों को दबाने पर दर्द होना
- जिस हाथ पर इंजेक्शन लगाया उसके अलावा शरीर के अन्य भागों पर लाल धब्बे होना
- उल्टी के साथ या उल्टी के बिना पेट में लगातार दर्द होना।
- लगातार उल्टी होना
- आंखों में दर्द, धुंधलापन दिखना

थ्रोम्बोसिस क्या होता है?

थ्रोम्बोसिस यानी खून के थक्के जमना। यह समस्या पैर में अधिक होती है। लेकिन अगर बॉडी में कहीं भी ब्लड क्लॉटिंग की समस्या होने लगती है तो खून बॉडी के अन्य हिस्से में ट्रांसफर होने लगता है। खून के थक्के जमने से ऑक्सीजन शरीर के अन्य हिस्सों में नहीं पहुंच पाती हैं। इससे गंभीर बीमारी भी हो सकती है। हृदयाघात भी हो सकता है। इसलिए खून के थक्के जमने को लेकर नजरअंदाज नहीं करें और तुरंत वैक्सीनेशन सेंटर पर शिकायत दर्ज करें।




और भी पढ़ें :