Covid-19 : होम आइसोलेट होने पर ये 5 सावधानियां जरूर रखें



कोरोना संक्रमित होने पर डॉक्टर सबसे पहले होम आइसोलेट होने की सलाह दे रहे हैं। कोविड के 3 नियम हैं- मास्क पहनना, सैनेटाइजर का उपयोग, भीड-भाड़ वाली जगह से दूर रहना। लेकिन होम आइसोलेट होने पर कुछ जरूरी सावधानियां बरतना जरूरी है, अनदेखी करने पर आपका परिवार भी संक्रमित हो सकता है। तो आइए जानते हैं होम आइसोलेट होने पर क्या सावधानियां जरूरी हैं -

- हवा से फैल रहा संक्रमण
कोरोना पर जारी रिसर्च में नया खुलासा हुआ है। लांसेट पत्रिका द्वारा रिसर्च में सामने आया है कि वायरस ज्यादा तेजी से हवा के जरिए फैल रहा है। जिसे एरासोल ट्रांसमिशन कहते हैं। इससे पहले ड्रॉपलेट ट्रांसमिशन यानि की मुंह से निकलने वाले पार्टिकल्स के माध्यम से एक इंसान से दूसरे इंसान में फैलता है।

घर में बरतें सावधानी
मीडिया से चर्चा में दिल्ली एम्स निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया ने बताया कि अगर आप होम आइसोलेट है तो हवादार कमरे में रहें। कोशिश करें घर की खिड़कियां खुली रखें। क्योंकि बंद कमरे में संक्रमण फैलने की संभावना अधिक बढ़ जाती है।

घर में दूरी बनाकर रखें
पूरा परिवार घर पर है तब भी दूरी बनाकर ही रखें। अगर घर में कोई सदस्य संक्रमित है तो उन्हें कमरे में ही रहने दें। इस मुगालते में नहीं रहें कि वह आपसे 10 या 15 मीटर की दूरी पर है तो आपको कुछ नहीं होगा। जब तक रिपोर्ट नेगेटिव नहीं आ जाती तब तक उनके सामने नहीं जाएं।

एसी के प्रयोग को करें कम
विशेषज्ञों का कहना है कि एसी चलाते वक्त पूरा कमरा बंद कर दिया जाता है। ऐसे में एरोसोल पार्टिकल के जमा होने के आसार बढ़ जाते हैं। इसलिए कोशिश करें कि बंद कमरे में कम ही बैठें।

होम आइसोलेशन
अगर आप होम आइसोलेट है तो इस बात का जरूर ध्यान रखें कि आपका कमरा हवादार होना चाहिए। खिड़कियां नहीं होने पर कमरे का वेंटिलेशन जरूर खोल दें। इससे हवा बाहर निकलती रहेगी। वहीं बाथरूम में भी वेंटिलेशन होना जरूरी है। नहीं होने पर बाथरूम को साफ करते रहें। जब भी आप बाथरूम जाएं मास्क लगाकर जाएं और हाइजिन का पूरा ध्यान रखें।



और भी पढ़ें :