मंगलवार, 16 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. लाइफ स्‍टाइल
  2. सेहत
  3. जान-जहान
  4. does lambda variant more dangerous than delta plus symptoms and treatment
Written By
Last Modified: बुधवार, 7 जुलाई 2021 (11:16 IST)

Covid-19 डेल्‍टा+ से भी अधिक खतरनाक लैम्ब्डा वेरिएंट! जानिए लक्षण,उपचार और वैक्सीन का प्रभाव

Covid-19 डेल्‍टा+ से भी अधिक खतरनाक लैम्ब्डा वेरिएंट! जानिए लक्षण,उपचार और वैक्सीन का प्रभाव - does  lambda variant more dangerous than delta plus symptoms and treatment
कोरोना वायरस की तीसरी लहर को लेकर एक बार फिर से लोग चिंतित होने लगे हैं। कोरोना का डेल्टा प्लस वेरिएंट धीरे-धीरे लोगों को अपनी जद में ले रहा है। इसी बीच अब एक और कोरोना का नया स्‍ट्रेन सामने आया है। लैम्ब्डा वेरिएंट है जो विशेष रूप से पेरू में पाया गया है और यूनाइटेड किंगडम में भी  रिपोर्ट किया गया है। सेंटर फॉर डिजीज के अनुसार वायरस लगातार अपना स्‍वरूप बदल रहा है। वैज्ञानिकों के मुताबिक अभी और भी तमाम वेरिएंट आ सकते हैं। आइए जानते हैं इस वेरिएंट के बारे में, इसके लक्षण क्या है और वैक्सीन के बाद कितना असरदार है, साथ ही बचाव के क्या उपाय है।

लैम्ब्डा वैरिएंट के लक्षण

ब्रिटेन की राष्‍ट्रीय स्‍वास्‍थ्‍य सेवा द्वारा इस वेरिएंट के लक्षण के बारे में बताया है - 
खांसी होना, बुखार आना और गंध और स्वाद चले जाना|
हालांकि यह बहुत आम लक्षण है किसी में भी यह दिख सकते हैं। इसलिए एक दिन बाद तक कोई  आराम नहीं होता है तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें या अपना टेस्ट कराएं।

लैम्ब्डा से बचाव के उपाय

यूके के विशेषज्ञों के मुताबिक ऊपर बताए गए निम्‍न लक्षणों के महसूस होने पर तुरंत अपना टेस्‍ट  कराएं। रिपोर्ट नहीं आने तक अपने आप को सभी से अलग रखें और कोविड नियमों का पालन करें। इस दौरान साफ-सफाई का विशेष ध्‍यान रखें। जल्‍द से जल्‍द खुद को वैक्सीन के दोनों डोज लगवाएं। इससे आप भी सुरक्षित रहेंगे और आपके आसपास वाले भी।

कितना प्रभावी है कोविड वैक्सीन

लैम्ब्डा वेरिएंट पर कोविड वैक्सीन कितना असरदार है इस बार में शोध के बाद ही स्पष्ट हो सकेगा। हालांकि पब्लिक हेल्‍थ इंग्लैंड के अनुसार दोनों डोज लेने पर संक्रमित होने के बाद अस्पताल में भर्ती होने से बच सकते हैं।

डब्‍ल्‍यूएचओ और पीएचई ने दिया अलग –अलग नाम 

जी हां, डब्‍ल्‍यूएचओ वर्ल्‍ड हेल्‍थ आग्रेनाइजेशन द्वारा इसे वेरिएंट ऑफ इंटरेस्ट नाम दिया गया है। 15 जून 2021 को डब्‍ल्‍यूएचओ द्वारा यह नाम दिया गया है। वहीं पीएचई (पब्लिक हेल्थ इंग्‍लैंड) द्वारा इसे  वेरिएंट अंडर इन्वेस्टिगेशन नाम दिया गया है। कोविड के इस नए वेरिएंट पर अभी जांच जारी है।  

डेल्टा से कितना अधिक खतरनाक है?

लैम्ब्डा वेरिएंट डेल्टा से कितना अधिक खतरनाक है। इसे लेकर इस पर अभी पूरी तरह से स्थिति स्‍पष्‍ट नहीं हुई है। यह दावा जरूर किया जा रहा है कि वैक्सीन के दोनों डोज के बाद आप अस्पताल में भर्ती होने से बच सकते हैं। यह वैक्सीन असरदार देखी जा रही है।

Disclaimer: चिकित्सा, स्वास्थ्य संबंधी नुस्खे, विषयों पर वेबदुनिया में प्रकाशित/प्रसारित वीडियो, आलेख एवं समाचार सिर्फ आपकी जानकारी के लिए हैं। इनसे संबंधित किसी भी प्रयोग से पहले विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।
 
ये भी पढ़ें
कोरोना से बड़ा है कोरोना के टीके का डर, कैसे मजबूत रखें मन