Birthday Special: एक समय जेल की हवा खाने वाला खिलाड़ी कैसे बना दुनिया का महान ऑलराउंडर

Last Updated: शुक्रवार, 4 जून 2021 (15:13 IST)

क्रिकेट टीम के स्टार खिलाड़ी आज अपना 30वां जन्मदिन मना रहे हैं। स्टोक्स का जन्म आज ही के दिन साल 1991 में के क्राइस्टचर्च में हुआ था। बेन स्टोक्स को आज दुनिया के सर्वकालिक महान खिलाड़ियों में शुमार किया जाता है।
बीते तीन सालों में स्टोक्स ने मानों इंग्लैंड क्रिकेट टीम की तस्वीर को ही बदल डाला। उन्होंने अकेले अपने दम पर इंग्लिश टीम को अनगिनत मुकाबले जीताए। आलम तो यह है कि मौजूदा समय में बेन स्टोक्स के बिना इंग्लैंड क्रिकेट टीम की कल्पना भी नहीं की जा सकती। भले ही आज स्टोक्स विश्व क्रिकेट का एक बहुत बड़ा नाम बन चुके हो लेकिन उनके लिए यहां तक पहुंचने का सफ़र बिलकुल भी आसान नहीं रहा।

आइए डालते हैं, आखिर कैसे शुरु हुआ था बेन स्टोक्स का करियर –
- बहुत ही कम लोग यह बात जानते होंगे लेकिन क्रिकेट में करियर बनाने से पहले स्टोक्स रग्बी खेला करते थे।स्टोक्स ने 14 साल की उम्र तक रग्बी खेलने के बाद क्रिकेट खेलना शुरु किया। उनके पिता गेराल्ड स्टोक्स भी एक रग्बी प्लेयर थे और ये खेल उनको विरासत मिला था।
- बेन स्टोक्स का जन्म वैसे तो न्यूजीलैंड में हुआ लेकिन उन्होंने अपना करियर इंग्लैंड से ही बनाया।

- स्टोक्स ने साल 2011 में आयरलैंड के खिलाफ अपना वनडे, उसी साल वेस्टइंडीज के विरुद्ध टी-20 और साल 2013 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट डेब्यू किया था।
ब्रिस्टल विवाद से बने विलन
2011 से अंतरराष्ट्रीय करियर शुरु करने वाले बेन स्टोक्स अब इंग्लैंड की टीम में अपना स्थान पक्का कर चुके थे, लेकिन तभी अचानक 2018 में कुछ ऐसा हुआ कि बेन स्टोक्स रातोंरात हीरो से विलन बन गए। दरअसल, 2018 में उनका नाम ब्रिस्टल विवाद में सामने आया।

ब्रिस्टल में एक नाइट क्लब के बाहर बेन स्टोक्स ने लोगों के साथ मारपीट की थी, जिसके कई सारे वीडियो भी सामने आए थे। मामला इतना संगीन था कि पुलिस ने तुरंत स्टोक्स को अपनी हिरासत में ले लिया था और उनपर मुकदमा भी चला था। इस मामले की लगभग एक वर्ष तक तहकीकात चली और अंत में स्टोक्स को निर्दोष करार दिया गया। मगर इस बीच उनको इंग्लैंड की टीम से ड्रॉप तक कर दिया गया था। हालांकि इस पूरे विवाद के बाद स्टोक्स ने जबरदस्त वापसी की और कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा।
विश्व कप जीत रचा इतिहास
बेन स्टोक्स इंग्लैंड की टीम एक सफल वापसी कर चुके थे और अब बारी थी विश्व कप 201 9 की। इंग्लैंड को टूर्नामेंट के शुरु होने से पहले ही खिताबी जीत का फेवरेट माना जा रहा था और हुआ भी कुछ ऐसा ही। इंग्लैंड ने पहली बार अपनी ही सरजमीं पर एकदिवसीय विश्व कप जीतकर एक नायाब इतिहास रचा।

इंग्लैंड को पहली बार विश्व विजेता बनाने में स्टोक्स ने सबसे अहम भूमिका अदा की। 30 वर्षीय ऑलराउंडर ने फाइनल में न्यूजीलैंड के विरुद्ध 242 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए 98 गेंदों पर नाबाद 84 रन बनाए थे। पूरे टूर्नामेंट में उन्होंने 11 मैचों में 465 रन बनाने के साथ- साथ 7 विकेट भी चटकाए थे।
विश्व कप जीतने के बाद उन्होंने अपने एक बयान में कहा था कि ‘ब्रिस्टल विवाद के बाद उनकी पूरी जिंदगी मानों बदल सी गयी और उस विवाद ने उन्हें अच्छा इंसान बनाने में भी मदद की थी.’
एशेज की वो ऐतिहासिक पारी

इंग्लैंड को विश्व विजेता बनाने के बाद भी बेन स्टोक्स ने हार नहीं मानी और अपनी जबरदस्त फॉर्म को बरकरार रखा। विश्व कप के ठीक बाद एशेज सीरीज में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उन्होंने एक ऐसी पारी खेली जो हमेशा-हमेशा के लिए इतिहास के पन्नों में दर्ज हो गयी।
लीड्स के मैदान पर इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच एशेज का तीसरा मुकाबला खेला गया था, जहां इंग्लैंड के सामने मुकाबला जीतने के लिए कंगारू टीम ने 359 रनों का लक्ष्य रखा था।इंग्लैंड ने अपने 9 विकेट 286 के स्कोर पर गवां दिए थे और हार टीम के सिर पर मंडरा रही थी, लेकिन स्टोक्स को कुछ ओर ही मंजूर था।

बेन स्टोक्स ने नंबर 11 के खिलाड़ी जैक लीच के साथ मिलकार नाबाद 76 रनों कि साझेदारी बनाकर इंग्लैंड को एक हारा हुआ मुकाबला जीता दिया। इंग्लैंड की इस नायाब जीत में स्टोक्स ने 219 गेंदों का सामना करते हुए 135 रनों की नाबाद पारी खेली थी।
अभी तक का करियर क्या कहता है

अभी तक बेन स्टोक्स ने 71 टेस्ट मैचों में 37.05 की औसत के साथ (4631 रन और 163 विकेट) चटकाए है, जबकि 98 वनडे मैचों में उनके खाते में 40.83 की औसत के साथ (2817 रन और 74 विकेट) दर्ज है। 34 टी-20 आई मैचों में उन्होंने 136.84 के स्ट्राइक रेट के साथ (442 रन और 19 विकेट) हासिल किए हैं।
आईपीएल में रिकॉर्ड तोड़ कीमत
अंतरराष्ट्रीय स्तर पर धमाल मचाने के बाद स्टोक्स ने आईपीएल में भी जोरदार एंट्री मारी। 2017 के सत्र में उन्होंने पहली बार आईपीएल में कदम रखा और ऑक्शन में सभी को हैरान करते हुए 14.5 करोड़ रुपये हासिल किए। उस समय उनको राइजिंग पुणे सुपरजॉइंट ने अपना हिस्सा बनाया था।

इतना ही नहीं अगले ही साल राजस्थान रॉयल्स ने भी उनको 2018 सत्र के लिए 12.5 करोड़ रूपये देकर अपने साथ जोड़ा था। अभी तक खेले आईपीएल के 43 मुकाबलों में स्टोक्स ने 134.5 के स्ट्राइक रेट के साथ 920 रन बनाए हैं और 28 विकेट लेने में सफल रहे हैं। 42 पारियों में उनके बल्ले से दो शतक भी देखने को मिल चुके हैं।



और भी पढ़ें :