बच्चे का नाम 'लॉकडाउन', बच्ची का नाम 'कोरोना'

वार्ता| Last Updated: बुधवार, 1 अप्रैल 2020 (23:49 IST)
देवरिया। (Corona Virus) को लेकर देशभर में हड़कंप मचा हुआ है। कोरोना संक्रमण को देश के बचाने के लिए 21 दिन का किया गया है।
गोरखपुर में जनता कर्फ्यू के दिन पैदा हुई एक नवजात बच्ची का नाम उसके माता-पिता ने 'कोरोना' रख दिया।

कोरोना के खिलाफ जंग में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के प्रयासों से प्रभावित होकर उत्तरप्रदेश में देवरिया के एक दंपत्ति ने अपने नवजात शिशु का नाम ‘लॉकडाउन’ रखा है।

जिले के खूखुंडू गांव के निवासी दंपत्ति का कहना है कि पीएम मोदी पूरे देश को कोरोना जैसे खतरनाक वायरस के संक्रमण से बचाने के लिए एक अभिभावक की तरह देश की जनता से लॉकडाउन के नियमों का पालन करने और घरों की दहलीज पार न करने की बार बार अपील कर रहे हैं। उनका यह प्रयास अद्‍भुत है।
दंपत्ति ने कहा कि उन्होंने अपने नवजात का नाम लॉकडाउन इसलिए रखा कि लोगों को प्रधानमंत्री का संदेश दिलों तक छू सके और वे अपने और परिवार की खातिर सरकार द्वारा दी गई गाइडलाइन का अक्षरश: पालन कर सकें।

बच्चे के पिता पवन ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान सोमवार को उनके यहां बेटा हुआ और उनके लिए इससे अच्छा नाम बच्चे के लिए हो ही नहीं सकता था।


नवजात बच्ची का नाम रखा कोरोना :
गोरखपुर में जनता कर्फ्यू के दिन पैदा हुई एक नवजात बच्ची का नाम उसके माता-पिता ने 'कोरोना' रख दिया।

गोरखपुर के सोहगौरा गांव निवासी बबलू त्रिपाठी की पत्नी रागिनी ने जनता कर्फ्यू के दिन बेटी को जन्म दिया। उसके चाचा नितेश त्रिपाठी ने बच्ची का नाम 'कोरोना' रखा।

जिला अस्पताल की स्टाफ नर्स संगीता कुमारी ने बताया कि हमें आश्चर्य हुआ, जब उसके चाचा ने उसका नाम कोरोना रखा। चाचा ने बताया कि कोरोना वायरस ने देश को एकजुट कर दिया है इसलिए उन्होंने अपनी भतीजी का नाम कोरोना रखा। (एजेंसियां)


और भी पढ़ें :