दिल्ली में 12 लाख से अधिक लोगों का हुआ टीकाकरण- सत्येन्द्र जैन

Last Updated: मंगलवार, 6 अप्रैल 2021 (21:13 IST)
नई दिल्ली। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा है कि अब तक राजधानी में रिपीट 12 लाख लोगों का किया गया और संक्रमण के बढ़ते खतरों को देखते हुए निजी एवं सरकारी अस्पतालों में बिस्तरों की संख्या बढ़ाने के लिए आदेश जारी किए गए हैं। जैन ने मंगलवार कहा कि दिल्ली सरकार कोरोना संक्रमण पर पूरी तरह नजर बनाए हुए हैं। अस्पतालों में लगभग 5000 बिस्तर कोरोना के मरीजों के लिए बढ़ाए जा रहे हैं। इसके अलावा अब दिल्ली के 33 सरकारी अस्पतालों में 24 घंटे कोरोना वैक्सीन लगवाई जा सकेगी।
ALSO READ:
Covid 19 India News: कोरोना को लेकर सरकार की चेतावनी, अगले 4 हफ्ते रहेंगे काफी भयावह, लापरवाही पड़ेगी भारी

उन्होंने कहा कि उम्मीद है कि केंद्र सरकार मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के प्रस्ताव का संज्ञान लेगी ताकि सभी को वैक्सीन उपलब्ध कराने के प्रस्ताव को लागू किया जा सके। स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि दिल्ली सरकार द्वारा कोरोना टेस्टिंग की संख्या बढ़ाई गई है और कल दिल्ली के अन्दर 65 हजार से भी ज्यादा कोरोना टेस्ट किए गए हैं। दिल्ली सरकार ने कल सभी सरकारी और निजी अस्पतालों में बिस्तरों की संख्या को बढ़ाने का आदेश दिया है।
जैन ने कहा कि दिल्ली में कल 87,673 लोगों का वैक्सीनेशन किया गया, जो कि अब तक का सर्वाधिक आंकड़ा है। राजधानी के अन्दर चल रहे वैक्सीनेशन के तहत कल हुए वैक्सीनेशन का लगभग 73 प्रतिशत यानी 63,936 लोगों ने अपना वैक्सीनेशन दिल्ली के सरकारी अस्पतालों में करवाया। इसके अलावा 23,737 लोगों ने अपना टीकाकरण दिल्ली के निजी अस्पतालों में करवाया। सरकारी अस्पतालों में वैक्सीनेशन का 95 फीसदी टाइम स्लॉट प्रयोग किया गया वहीं निजी अस्पतालों में यह 67 प्रतिशत प्रयोग किया गया। इससे हमें पता चलता है की लोग सरकारी अस्पतालों में जाकर अपना टीकाकरण करवाना ज्यादा पसंद कर रहे हैं। दिल्ली के अंदर अब तक 12 लाख से अधिक लोगों का वैक्सीनेशन किया जा चुका है।


उन्होंने आगे कहा कि पिछले कुछ महीनों में पहली बार संक्रमण की दर 5 प्रतिशत से ऊपर गया है। दिल्ली सरकार बढ़ते संक्रमण के मामले को लेकर पूरी तरह सतर्क है और इस पर नजर बनाए हुए है। पूरे देश में भी यह संक्रमण का दर 5 प्रतिशत से ऊपर ही चल रही है। दिल्ली में 24 घंटे कोरोना वैक्सीन की सुविधा पर सत्येन्द्र जैन ने कहा कि दिल्ली के सभी 33 सरकारी अस्पतालों में 24 घंटे कोरोना वैक्सीनेशन की सुविधा मुहैया कराई जाएगी।

केजरीवाल द्वारा केंद्र सरकार को सभी आयु वर्गों के लोगों का वैक्सीनेशन करने के लिए पत्र लिख कर दिए गए सुझाव को लेकर सत्येन्द्र जैन ने कहा कि अभी तक सिर्फ 45 साल या उससे ज्यादा आयु के लोगों को कोरोना की वैक्सीन लगवाने की इजाजत है। सभी वर्गों के लोगों का वैक्सीनेशन करने से ही सभी लोगों का फायदा होगा क्योंकि नौजवान उम्र के लोगों को कोरोना संक्रमण से खतरा तो कम रहता है लेकिन वह अपने परिवार के लिए संक्रमण वाहक का काम करते हैं। हमें लगता है कि सभी लोगों का एक साथ टीकाकरण करने से ही सर्वोत्तम प्रभाव पड़ेगा। हमें आशा है की मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का सुझाव केंद्र सरकार द्वारा गौर किया जाएगा।(वार्ता)



और भी पढ़ें :