Lockdown-3 में दिल्ली में कोई राहत नहीं, सभी जिले 'रेड'

Last Updated: शनिवार, 2 मई 2020 (14:26 IST)
नई दिल्ली। वैश्विक महामारी (Corona Virus) की वजह से के चार मई से शुरू होने वाले तीसरे चरण में दिल्ली में वायरस के लगातार बढ़ रहे मामलों को देखते हुए कोई राहत नहीं मिलने वाली है और राजधानी के सभी जिले ‘रेड जोन’ में रखे गए हैं।
सोमवार से लॉकडाउन का तीसरा चरण शुरू होगा जो 17 अप्रैल तक चलेगा। तीसरे चरण में देश को 3 जोन में बांटा गया है। जोन के हिसाब से लॉकडाउन में कुछ राहतें भी दी गई है, किंतु दिल्ली रेड जोन में है इसलिए यहां कोई ढील नहीं मिलने वाली है बल्कि और कड़ाई से पालन के निर्देश दिए गए हैं।

स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने शनिवार को कहा कि अगले दो सप्ताह तक राजधानी के सभी 11 जिलों में लॉकडाउन में किसी प्रकार की ढील नहीं देने का फैसला किया गया है।

जैन ने रेड जोन को परिभाषित करते हुए कहा कि ऐसा जिला जहां कोरोना के 10 से अधिक मामले होते हैं, उसे इस श्रेणी में रखा जाता है और इनमें केंद्र सरकार से मिले राहत उपायों को अमल में लाया जाता है।

उन्होंने कहा दूसरे राज्यों से बातचीत की जा रही है, जिससे वहां के वाशिंदों को वापस भेजने का खाका तैयार कर विशेष ट्रेनों का प्रबंध किया जाए। दिल्ली सरकार इसमें चिकित्सा सहायता मुहैया कराएगी। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि राजस्थान के कोटा में पढ़ाई कर रहे दिल्ली के छात्रों की वापसी के लिए बसें भेजी जा चुकी हैं।

जैन ने कहा आजादपुर मंडी में 24 घंटे काम किया जा रहा है, जिससे कि वहां एक साथ ज्यादा लोग एकत्रित नहीं होने पाएं। एशिया की सबसे बड़ी फल एवं सब्जी मंडी में कोरोना के 16 मामले सामने आ चुके हैं और कई दुकानों को सील किया जा चुका है।

दिल्ली में शुक्रवार को कोरोना संक्रमण के 223 नए मामले सामने आने के बाद राजधानी में कोविड-19 के कुल मामले
3738 हो गए हैं। कोविड-19 से मरने वाले लोगों की संख्या 61 है। दिल्ली में कोरोना के सक्रिय मामले 2510 हैं, जिसमें 49 आईसीयू और 5 वेंटिलेटर पर हैं। (वार्ता)



और भी पढ़ें :