भारतीय-अमेरिकी NGO ने Corona राहत कार्यों के लिए 4 लाख डॉलर जुटाए

पुनः संशोधित रविवार, 12 अप्रैल 2020 (20:54 IST)
वॉशिंगटन। भारतीय-अमेरिकी गैर लाभकारी संगठन ने अमेरिका में कोरोना वायरस (Corona virus) से प्रभावित हजारों लोगों को मदद एवं राहत पहुंचाने के लिए जुटाए हैं। इस राशि से स्वास्थ्य कर्मियों को हजारों मास्क भी वितरित किए जा रहे हैं।
इसके साथ ही महज 2 भारतीय अमेरिकी संगठनों- सेवा इंटरनेशनल (4 लाख डॉलर) और इंडियास्पोरा (6 लाख डॉलर) ने कोविड-19 राहत प्रयासों के लिए 10 लाख डॉलर की राशि जुटा ली है। शनिवार को सेवा इंटरनेशनल ने कोविड-19 ब्लड प्लाज्मा के लिए राष्ट्रीय रजिस्ट्री शुरू करने की भी घोषणा की थी।

अब तक, हर समय काम कर रही यही एकमात्र सेवा है जो कोन्वलेसेंट प्लाज्मा थेरेपी कार्यक्रम के तहत दानकर्ता और प्राप्तकर्ता दोनों की राष्ट्रीय रजिस्ट्री उपलब्ध कराता है जिसमें लाइव फोन सुविधा और सोशल मीडिया सहयोग भी साथ-साथ मिलता है।

सेवा इंटरनेशनल के अध्यक्ष श्रीनाथ ने कहा, हमारा लक्ष्य मेल खाने वाले रक्त दानकर्ता और प्लाज्मा चाहने वाले कोविड-19 मरीजों को समय रहते साथ लाना और जीवन बचाना है और हम 24 घंटे सेवा के लिए उपलब्ध हैं।

उन्होंने कहा, हम प्रौद्योगिकी और मानव संसाधन का प्रयोग नियामक एवं साजो-सामान संबंधी रुकावट को दूर करने के लिए कर रहे हैं। हम फिजिशियन और कोविड-19 से गंभीर रूप से बीमार मरीजों के परिवारों के लिए समय रहते स्वस्थ करने वाला प्लाज्मा उपलब्ध कराने का मिशन चला रहे हैं।

एनजीओ ने एक बयान में बताया कि स्वयंसेवियों की समर्पित टीम द्वारा चलाई जा रही यह सेवा एचआईपीपीए चिकित्सीय आंकड़ा संरक्षण कानूनों का पालन करती है और पंजीकृत उपयोगकर्ताओं (दानकर्ता एवं प्राप्तकर्ता) की निजता एवं गोपनीयता को संरक्षित रखती है।

सेवा के राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय कार्यक्रमों के प्रेम पुसुलूरी ने कहा, फिजिशियन एवं प्रौद्योगिकीविद् के समर्पित समूह ने तेजी से इस रजिस्ट्री का विकास किया क्योंकि उन्हें देशभर में ऐसी सेवा की तत्काल जरूरत दिख रही थी। एनजीओ ने 15 मार्च से तीन शहरों में अपनी हेल्पलाइन शुरू की थी जो अब आठ शहरों तक जा चुकी है।

भारतीय-अमेरिकी एनजीओ ने अस्पतालों, आपदा प्रबंधन प्रणालियों, एंबुलेंस सेवाओं, प्रथम उत्तरदाताओं, देखभाल करने वालों, नर्सिंग होम आदि को 35,000 से अधिक सर्जिकल एवं एन-95 मास्क उपलब्ध कराए हैं। इसके अलावा सैनिटाइजर की 2,000 बोतल और 2,000 जोड़ी दस्ताने भी वितरित किए हैं। (भाषा)



और भी पढ़ें :