UP सरकार जरूरतमंदों को अनाज के साथ देगी 1000 रुपए

अवनीश कुमार| पुनः संशोधित गुरुवार, 16 अप्रैल 2020 (19:45 IST)
लखनऊ। उत्तरप्रदेश के लखनऊ में आज मुख्यमंत्री ने लोकभवन में COVID19 के संबंध में गठित समितियों के अध्यक्षों के साथ की। समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कम्युनिटी किचन व्यवस्था को सुदृढ़ करते हुए अधिक से अधिक जरूरतमंदों को लाभान्वित करने के दिशा निर्देश दिए।
उन्होंने कहा कि वितरण कार्य में प्रमाणित लोग ही रखे जाएं। कोई भी संदिग्ध व्यक्ति इस कार्य में न लगाया जाए। सभी जिलाधिकारी इस संबंध में विशेष सतर्कता बरतें और जरूरतमंदों को तत्काल खाद्यान्न उपलब्ध कराया जाए। जो किसी भी खाद्यान्न योजना से आच्छादित नहीं हैं, ऐसे लोगों को भी खाद्यान्न के साथ ही 1000 का भरण-पोषण भत्ता प्रदान किया जाए।

निराश्रित गोवंश व अन्य पशुओं के भोजन आदि का समुचित प्रबंध सुनिश्चित किया जाए। इसी के साथ मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि किसी भी गेहूं क्रय केंद्र पर न्यूनतम समर्थन मूल्य से नीचे गेहूं का क्रय नहीं होना चाहिए।

फार्मर्स प्रोड्यूसर्स ऑर्गनाइजेशन के लिए भी आदेश जारी किए जाएंगे ताकि ग्रामीण स्तर पर भी क्रय करने की कार्रवाई सुनिश्चित होती रहे।

मुख्यमंत्री ने बैठक में स्पष्ट रूप से कहा कि विभिन्न प्रदेशों में रह रहे उत्तरप्रदेश के नागरिकों की समस्याओं के समाधान के लिए प्रदेश सरकार द्वारा नामित अधिकारियों को प्रत्येक फोन कॉल अटैंड करने व लोगों की समस्याओं के प्रति संवेदनशील रहें।



और भी पढ़ें :