तौकते का असर : महाराष्ट्र में नहीं होगा कोविड-19 टीकाकरण, 580 मरीजों को किया गया शिफ्ट

Last Updated: रविवार, 16 मई 2021 (19:49 IST)
मुंबई। मुंबई नगर पालिका ने चक्रवाती तूफान तौकते को लेकर जारी चेतावनी के मद्देनजर कोरोनावायरस (Coronavirus) टीकाकरण अभियान को 17 मई को तीसरे दिन भी रोके रखने का रविवार को फैसला किया। नगर पालिका आयुक्त इकबाल सिंह चहल ने यह जानकारी दी। बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) ने शुक्रवार को घोषणा की कि भारत मौसम विज्ञान विभाग की चक्रवात संबंधी चेतावनी को ध्यान में रखते हुए 15 और 16 मई को कोई टीकाकरण नहीं किया जाएगा।
चहल ने कहा कि टीकाकरण कार्यक्रम अब मंगलवार, बुधवार और गुरुवार को लागू किया जाएगा। मौसम विभाग के मुताबिक, चक्रवात तौकते ‘बेहद गंभीर चक्रवाती तूफान’ में तब्दील हो चुका है और यह 17 मई की शाम को गुजरात तट के पास पहुंच सकता है तथा 18 मई की सुबह भावनगर जिले में महुवा और पोरबंदर से गुजरेगा।

बीएमसी के एक अधिकारी ने पहले बताया था कि तूफान तौकते के शहर के पास से होकर गुजरने की चेतावनी के चलते शहर के कोविड देखभाल केंद्रों से 580 मरीजों को एहतियात के तौर हटाकर दूसरी जगह भेज दिया गया। इस बीच चहल ने यह भी कहा कि केंद्र सरकार ने कोविड-19 टीके की दो खुराकों के बीच 16 से 18 हफ्ते का अंतराल रखने के लिए निर्देश जारी किए हैं।

इसलिए, स्वास्थ्य कर्मियों और अग्रिम मोर्चा के कर्मियों के अलावा कोई भी वर्तमान में कोविशील्ड की दूसरी खुराक लेने का पात्र नहीं है क्योंकि अन्य श्रेणियों के लिए टीकाकरण एक मई से शुरू हुआ था। उन्होंने बताया कि इस बदलाव के चलते, नगरपालिका ने 18 से 20 मई के दौरान 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोग जो कोविशील्ड की पहली खुराक लेंगे, उनके लिए वॉक इन (टीकाकरण) सुविधा बढ़ाने का फैसला किया है।

कोंकण, मुंबई के भागों में बहुत भारी बारिश की संभावना : भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने रविवार को कहा कि च्रकवात तौकते काफी भीषण चक्रवाती तूफान में परिवर्तित हो गया है और इसके चलते 17 मई को के मुंबई, उत्तरी कोंकण, ठाणे और पालघर के हिस्सों में भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना है।
ALSO READ:
Vaccination : कोरोना वैक्सीन से पहले और बाद में बिल्कुल न करें ये 7 काम
मौसम विभाग ने रायगढ़ में सोमवार को अत्याधिक भारी बारिश होने का पूर्वानुमान जताया है। आईएमडी ने बृह्नमुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) को सूचित किया था कि तूफान के शनिवार देर रात या रविवार तड़के मुंबई से कुछ दूरी से गुजरने की संभावना है, इसलिए अधिक नुकसान होने की आशंका नहीं है, लेकिन मुंबई, ठाणे और पालघर में तेज हवाएं चल सकती हैं और भारी बारिश हो सकती है।
पुणे आईएमडी में पर्यावरण अनुसंधान एवं सेवाएं विभाग के वरिष्ठ अधिकारी के एस होसालिलर ने ट्वीट किया, ताजा मौसम पूर्वानुमान के मुताबिक, चक्रवात सोमवार दोपहर के आसपास पहुंच सकता है। हालांकि यह 200 किलोमीटर से अधिक दूरी से गुजर सकता है। फिर भी उत्तरी कोंकण, मुंबई, ठाणे और पालघर के दूर-दराज के भागों में भारी से बहुत भारी बारिश हो सकती है। रायगढ़ में अत्याधिक भारी बारिश की संभावना है।
16-17 मई को तेज हवाएं चल सकती हैं और समुद्र अशांत रह सकता है। बीएमसी के मुताबिक, मुंबई में रविवार सुबह से बारिश नहीं हुई है। हालांकि, आसमान में बादल छाए हुए हैं। इसके मुताबिक, शहर में तेज हवाएं चलती रहीं, जिसके फलस्वरूप पश्चिमी उपनगर में चार पेड़ गिर गए। मुंबई में शनिवार रात को हल्की बारिश दर्ज की गई थी।

इस बीच मुंबई की महापौर किशोरी पेडनेकर ने रविवार को बीएमसी आपदा नियंत्रण कक्ष का दौरा कर चक्रवात से निपटने की तैयारियों का जायजा लिया। पेडनेकर ने जनता से प्रशासन की ओर से समय-समय पर जारी निर्देशों का सख्ती से पालन करने की अपील भी की।(भाषा)



और भी पढ़ें :