30 साल बाद शनि त्रिकोण राशि में शुभ है सिर्फ 4 राशियों के लिए

Shani in Makar Rashi : इस वक्त सूर्य ग्रह मिथुन राशि में है जहां पर बुध के साथ युति बनाकर बुधादित्य योग बन रहा है और साथ ही भद्र योग भी। शुक्र ग्रह भी स्वयं की राशि वृषभ में विराजमान रहकर मालव्य योग बना रहा है लेकिन 13 जुलाई के बाद मिथुन में गोचर करने के बाद त्रिग्रही योग के साथ ही लक्ष्म नारायण योग भी बनाएगा। वहीं अब 30 साल बाद शनि अपनी मूल त्रिकोण राशि यानी मकर में गोचर करेगा। मंगल पहले से ही मेष में रहकर रुचक योग, गुरु मीन में रहकर हंस योग बना रहा है, जबकि शनि से शश योग का निर्माण हो रहा है। इससे 4 राशि वालों की गोचर कुंडली में डबल महापुरुष राजयोग का निर्माण हो रहा है।
12 जुलाई, 2022 की सुबह 10:28 बजे स्वराशि मकर में वक्री ही होकर प्रवेश करेगा।


1. वृषभ राशि : आपकी राशि के नौवे भाव में शनि का गोचर हो रहा है। गोचर कुंडली में 2 महापुरुष राजयोग का निर्माण हो रहा है। इस गोचर से जातकों को नौकरी में जबरदस्त सफलता मिलेगी और यदि व्यापारी हैं तो मुनाफा होगा। सुख सुविधाओं का विस्तार होगा। पारिवारिक जीवन सुखद रहेगा। यात्रा के योग बन रहे हैं।
2. सिंह राशि: आपकी राशि के छठे भाव में शनि का गोचर आपके शत्रुओं को परास्त करेगा। आपकी गोचर कुंडली में कुंडली में शश और मालव्य नामक 2 राजयोग बने हुए हैं, जिसके चलते अचानक धनलाभ हो सकता है। सेहत में सुधार होगा। जीवनसाथी के साथ विवाद हो सकता है। मुकदमें में जीत होगी। नौकरी में पदोन्नति होगी। व्यापार में समय सामान्य रहेगा।
3. वृश्‍चिक राशि : आपकी राशि के तीसरे भाव में होगा। गोचर कुंडली में 2 राजयोग बन रहे हैं। नौकरी में सकारात्मक बदलाव की संभावना है। इनके वेतन वृद्धि से आर्थिक स्थिति बहुत सुदृढ़ होगी। व्यापारियों को उनके पिछले कार्यों में लाभ मिल सकता है। योजना बनाकर काम करें। हालांकि भाई बहनों से संबंध में विवाद न करें।
4. कुंभ : आपकी राशि के बारहवें भाव में शनि का वक्री गोचर विदेश यात्रा या लंबी यात्रा करा सकता है। करियर में वृद्धि होगी। आर्थिक रूप से मजबूत होंगे। हालांकि सेहत के लिए यह गोचर अच्‍छा नहीं है। वाहन चलाते वक्त ध्यान रखना होगा। 2 राजयोग बने हैं जिसके चलते भौतिक सुख सुविधा और ऐश्वर्य में वृद्धि होगी।



और भी पढ़ें :