0

शादीशुदा महिलाओं के नाम के आगे क्यों लगाते हैं श्रीमती?

शनिवार,जुलाई 2, 2022
0
1
Effect of Angarak Dosh: 27 जून 2022 से मंगल ग्रह मेष राशि में गोचर कर रहा है जहां पर पहले ही राहु से संयोग बनाकर वह विस्फोटक योग निर्मित कर रहा है जिसे अंगारक योग कहते हैं। इस योग के चलते देश, दुनिया और समाज पर इसका विपरित असर होता है। आओ जानते हैं ...
1
2
13 जुलाई को आ रही है गुरु पुर्णिमा। यदि आपकी कुंडली में गुरु दोष, चांडाल योग या किसी भी प्रकार से बृहस्पति ग्रह कमजोर होकर कई तरह की समस्याएं खडी कर रहा है तो आपको इस दिन करना चाहिए 7 खास उपाय तो होगा फायदा। निम्नलिखित उपाय करने से भाग्य जागृत होगा, ...
2
3
इन दिनों आषाढ़ मास चल रहा है, और श्रावण मास की तरह इस महीने भी शिव जी पूजा का लाभ देते हैं। जानिए कैसे... आषाढ़ मास के सोमवार को मिश्री के शिवलिंग की पूजा से क्या होता है? जरूरी बातें
3
4
Sapne mein divangat dikhai dena : सपने कई कारणों से दिखाई देते हैं। जब हम कोई स्वप्न देखते हैं तो जरूरी नहीं कि प्रत्येक सपने का अच्छा या बुरा फल होता है। हालांकि स्वप्न शास्त्र और ज्योतिष के अनुसार कुछ सपने हमें भविष्य का संकेत देते हैं या सतर्क ...
4
4
5
आषाढ़ मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी को देवशयनी एकादशी कहा जाता है। पुराणों के अनुसार, इस दिन से चार महीने के लिए भगवान विष्णु योग निद्रा में रहते हैं। इस चार महीनों में मांगलिक कार्यों की मनाही होती है। कार्तिक मास में शुक्ल पक्ष की एकादशी को भगवान ...
5
6
see the full list of july month festivals and vrat जुलाई का महीना धर्म-कर्म, तीर्थयात्रा और धार्मिक दृष्टि से बेहद खास माना जाता है, क्‍योंकि इसी महीने में शिवभक्तों का प्रिय मास श्रावण और गुरु पूर्णिमा तथा चातुर्मास का आरंभ हो रहा है। श्रावण में ...
6
7
Devshayani ekadashi 2022: आषाढ़ माह के शुक्ल पक्ष की एकादशी को देवशयनी एकादशी इसलिए कहते हैं क्योंकि इस दिन से चार माह के लिए श्रीहरि विष्णु योगनिद्रा में सो जाते हैं। इसीलिए इसे हरिशयनी और पद्मनाभ एकादशी भी कहते हैं। इस एकादशी के व्रत को विधवत रूप ...
7
8
पौराणिक मान्यतानुसार आषाढ़ माह में वर्षा के कारण जल में जीव-जंतुओं की उत्पत्ति अधिक बढ़ जाती है, अत: इस माह स्वच्छ जल ही पीना चाहिए तथा इसकी स्वच्छता का विशेष ध्यान रखना चाहिए,
8
8
9
आषाढ़ और माघ मास की नवरात्रि को गुप्त नवरात्रि कहते हैं। इस बार आषाढ़ गुप्त नवरात्रि (ashadh gupt navratri) 30 जून से शुरू होकर 8 जुलाई तक मनाई जाएगी। धार्मिक मान्यतानुसार आषाढ़ माह के विशेष दिनों में व्रत करने का बहुत ही महत्व होता है
9
10
बुध ग्रह 02 जुलाई, शुक्रवार को सुबह 09 बजकर 40 मिनट पर वृषभ से निकलकर मिथुन राशि में प्रवेश करेंगे। इसके बाद बुध का कर्क राशि में गोचर 17 जुलाई, 2022 की सुबह 12:15 बजे होगा। दूसरी ओर 15 जून 2022, बुधवार से सूर्य ग्रह मिथुन राशि में गोचर कर रहे हैं। ...
10
11
खाने-पीने की वस्तुएं सपने में दिखाई दे तो उसे शुभ और अशुभ दोनों माना गया है। आइए जानते हैं इस तरह के सपनों का क्या होता है फल-
11
12
30 जून से आषाढ़ मास की गुप्त नवरात्रि (month of ashadha) प्रारंभ हो गई है, यह 8 जुलाई को समाप्त होगी। ज्योतिषाचार्य पं. प्रणयन पाठक ने ग्रह-नक्षत्रों का विश्लेषण कर इस गुप्त नवरात्रि (Gupt Navratri 2022) को बेहद शुभ बताया है।
12
13
nine days ashadha navratri आषाढ़ शुक्ल प्रतिपदा से गुप्त नवरात्रि शुरू हो गई है, इसे गुप्त नवरात्रा भी कहा जाता है। इन नवरात्रि में 10 महाविद्याओं की पूजा करने का विधान हमारे शास्त्रों में बताया गया है। गुप्त नवरात्रि में कठिन व्रत रखने तथा ...
13
14
ज्योतिष शास्त्र (Astrology, एस्ट्रोलॉजी) के अनुसार किसी भी साल के जुलाई महीने (July Birthday) में अगर आपका जन्म हुआ है तो आप अत्यंत रहस्यवादी और मूडी हैं।
14
15
Gupt Navratri 2022 : 30 जून 2022 गुरुवार से आषाढ़ माह की गुप्त नवरात्रि प्रारंभ हो गई है। यह नवरात्रि साधना और सिद्धि के लिए रहती है। इस नवरात्रि में कड़े नियमों का पालन करना होता है। आओ जानते हैं कि इस दिन के कौनसे हैं शुभ मुहूर्त, जानिए इन 9 दिनों ...
15
16
Guru Poornima Gift Ideas गुरु पूर्णिमा या आषाढ़ पूर्णिमा के दिन ऋषि-मुनि, गुरु तथा शिक्षकों का पूजन किया जाता है। यह दिन हिन्दू धर्म संस्कृति में काफी महत्व रखता है। इस दिन गंगा स्नान तथा दान करने का अधिक महत्व है। इस दिन मंत्रों के साथ अपने ...
16
17
घर में चींटियां निकल रही हैं तो जानिए शुभ-अशुभ संकेत- अगर घर में चींटियां निकल रही हैं तो यह आपके जीवन में होने वाली किसी बात को लेकर संकेत है। आइए जानें... significance of ant
17
18
धार्मिक मान्यताओं के अनुसार गुप्त नवरात्रि के दिनों में देवी दुर्गा का ध्यान और साधना करके दुर्लभ शक्तियां हासिल की जा सकती हैं। गुप्त नवरात्रि वर्ष में 2 बार मनाई जाती है। पहली माघ के महीने में माघ गुप्त नवरात्रि और दूसरी आषाढ़ माह में आषाढ़ गुप्त ...
18
19
वर्ष 2022 में आषाढ़ मास की गुप्त नवरात्रि (aashadh gupt navratri 2022) का प्रारंभ 30 जून, गुरुवार से हो रहा है। अगर आप भी इस नवरात्रि में माता दुर्गा (Mother Goddess) की गुप्त रूप से साधना करके मनवांछित फल प्राप्त करना चाहते हैं
19