0

24 शुभ संकेत : इन मांगलिक संकेतों से जानिए आने वाले हैं अच्छे दिन

रविवार,जनवरी 17, 2021
0
1
सरल उपाय : सूर्य अशुभ प्रभाव दे रहा हो तो बैड के नीचे तांबे के बर्तन में पानी भरकर रखें। ऐसा करना संभव न हो तो तकिए के नीचे लाल चंदन रखें।
1
2
वेलेंटाइन डे से पहले अपने मनचाहे प्यार के लिए इन देवताओं को मना लीजिए....
2
3
भगवान को चावल चढ़ाते समय यह ध्यान रखना चाहिए कि चावल टूटे हुए न हों। अक्षत पूर्णता का प्रतीक है अत: सभी चावल अखंडित होने चाहिए। मात्र 5 दाने चावल रोज चढ़ाने से अपार ऐश्वर्य की प्राप्ति होती है।
3
4
कई ऐसी चीजें शास्त्रों और धर्म-पुराणों में बताई हैं, जिनके उधार लेने और दान करने से भी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। आइए आज हम आपको बताते हैं उन चीजों के बारे में जो ना उधार लेना चाहिए और ना ही दान में देना चाहिए।
4
4
5
जीवन में सुख-समृद्धि, धन-संपत्ति और शत्रुओं से सुरक्षा के लिए रविवार का व्रत सर्वश्रेष्ठ है। रविवार का व्रत करने व कथा सुनने से मनुष्य की सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं।
5
6
पौष शुक्ल पक्ष चतुर्थी दिन रविवार, दिनांक 17 जनवरी 2021 को गुरु का तारा पश्चिम दिशा में अस्त होगा, जो माघ शुक्ल पक्ष द्वितीया दिनांक 13 फरवरी 2021, दिन शनिवार को उदित होगा।
6
7
साल 2021 के आरंभ में जहां शनि, सूर्य देव के नक्षत्र उत्तराषाढ़ा में रहेंगे, वहीं 22 जनवरी को श्रवण नक्षत्र में प्रवेश करेंगे। श्रवण नक्षत्र पर चंद्रदेव का आधिपत्य होता है। शनि करीब 30 महीनों में अपनी राशि बदलते हैं।
7
8
क्या आप जानना चाहते हैं कि आपकी कुंडली में कौनसा ग्रह उच्च का या नीच का है, अच्छा है या बुरा है? आप खुद ही अपनी कुंडली लेकर बैठे हैं और इस लेख के अनुसार टेली कर लें। कुछ हद तक तो आपको समझ में आ ही जाएगा कि मेरी कुंडली के कौनसे ग्रह अच्छे हैं। यदि ...
8
8
9
शनिवार की प्रकृति दारुण है। यह भगवान भैरव और शनि का दिन है। समस्त दुःखों एवं परेशानियों से छुटकारा पाने के लिए शनिवार के दिन उपवास रखना चाहिए। शनि हमारे जीवन में अच्छे कर्म का पुरस्कार और बुरे कर्म के दंड देने वाले हैं। कहते हैं कि जिसका शनि अच्छा ...
9
10
जिनकी कुंडली में चौथा भाव बली हो उसका घर अवश्य बनेगा। जितने बली ग्रह चौथे भाव पर होंगे उतने ही घर जातक के होंगे लेकिन अगर राहु का प्रभाव चौथे भाव पर हो तो वह अपने घर का सुख नहीं ले सकेगा। हो सकता है घर तो आलिशान हो लेकिन खुद सरकारी मकान में रहे।
10
11
कुंडली का सातवां घर बताता है कि आपकी शादी किस उम्र में होगी। शादी के लिए दिशा कौन सी उपयुक्त रहेगी जहां प्रयास करने पर जल्द ही शादी हो सके।
11
12
वर्ष 2021 में 16 जनवरी, शनिवार को विनायक चतुर्थी का व्रत रखा जाएगा। यह तिथि भगवान श्री गणेश की तिथि है। हिन्दू धर्मग्रंथों के अनुसार श्री गणेश की कृपा प्राप्ति
12
13
16 जनवरी, शनिवार को साल 2021 की पहली विनायक (Vinayak Chaturthi 2021) चतुर्थी है। प्रत्येक माह में दो चतुर्थी होती है। इस तरह 24 चतुर्थी और प्रत्येक तीन वर्ष बाद अधिमास की मिलाकर 26 चतुर्थी होती है। सभी चतुर्थी की महिमा और महत्व अलग अलग है। हर माह ...
13
14
मूलांक के अलावा शुभांक (Lucky No) से भी भविष्य जाना जाता है, आइए जानते हैं क्या कहता है आपका शुभांक...
14
15
सभी ग्रहों में शनि का मनुष्य पर सबसे हानिकारक प्रकोप होता है। अतः मनुष्य को शनि की कुदृष्टि से बचने के लिए शनिवार का व्रत करते हुए शनि देवता की पूजा-अर्चना करनी चाहिए।
15
16
गुरु व शुक्र के तारे के अस्त होने पर किसी भी प्रकार के शुभ एवं मांगलिक कार्यों के मुहूर्त नहीं बनते। आइए जानते हैं आगामी वर्ष 2021 में किस अवधि में गुरु व शुक्र का तारा अस्त स्वरूप रहेगा-
16
17
ज्योतिषीय गणना के अनुसार, 18 जनवरी के बाद बृहस्पति और शुक्र ग्रह के कारण साल के शुरुआती महीनों में विवाह नहीं हो पाएंगे।
17
18
खग्रास व खंडग्रास ग्रहण का समस्त द्वादश राशियों पर व्यापक प्रभाव माना जाता है किन्तु "मान्द्य" ग्रहण का जनमानस पर कोई व्यापक प्रभाव नहीं होता। जब ग्रहण के निवासरत स्थान
18
19
गोचर अनुसार शनि जिस राशि में स्थित होते हैं उसके साथ ही उस राशि से दूसरी और द्वादश राशि पर साढ़ेसाती का प्रभाव माना जाता है
19