0

hanuman jayanti 2020 : हनुमान जन्मोत्सव पर राशि अनुसार कौन सी उपासना शुभ है आपके लिए

सोमवार,अप्रैल 6, 2020
hanuman jayanti 2020
0
1
मकर राशि में मंगल, गुरु और शनि, इन तीनों ग्रहों का योग देश-दुनिया के लिए राहत दिलाने वाला रहेगा। जानिए सभी 12 राशियों पर इन 3 ग्रहों का कैसा असर होने वाला है...
1
2
बरकत को हिन्दी में प्रचुरता मान सकते हैं। कुछ लोग इसे प्रभु की कृपा और कुछ इसे लाभ मानते हैं। कुछ इसका अर्थ समृद्धि या सौभाग्य से लगाते हैं। अंग्रेजी में इसे abundance कहते हैं।
2
3
अक्सर हिन्दू धर्म से जुड़े कुछ सवालों को बार-बार पूछा जाता है लेकिन उनके संतोषप्रद उत्तर नहीं मिलते हैं। हम लाए हैं पुराणों से कुछ सटीक जवाब...
3
4
हिन्दू धर्म में समय की बहुत ही वृहत्तर धारणा है। आमतौर पर वर्तमान में सेकंड, मिनट, घंटे, दिन-रात, माह, वर्ष, दशक और शताब्दी तक की ही प्रचलित धारणा है,
4
4
5
साल में 12 अमावस्या होती हैं। इस दिन 108 बार तुलसी की परिक्रमा करने से मन को शांति की अनुभूति होती है। जो लोग आध्यात्मिक मार्ग पर बढ़ना चाहते हैं उनके लिए भी यह दिन अत्यंत महत्वपूर्ण होता है। आइए जानें साल भर की 12 अमावस कब कब आ रही हैं...
5
6
प्रत्येक मनुष्य का समाज में प्रचलित नाम अंग्रेजी वर्णानुसार लेते हैं। इस नवीन विधि के अनुसार प्रत्येक वर्ण को एक निश्चित अंक दिया गया है। इस प्रकार नाम से संबंधित नामांक हम निकालते हैं।
6
7
अंक ज्योतिष के नौ अंक नौ ग्रहों का प्रतिनिधित्व करते है। कुछ अंक रहस्यमय होने के साथ-साथ खतरनाक और अशुभ भी माने गए हैं।
7
8
मंगल दोष के कारण पति-प‍त्नी में सामंजस्य की कमी रहती है। एक-दूसरे से वैमनस्य रहता है। जीवनसाथी का स्वास्थ्य प्रभावित होता है। आइए जानते हैं 7 सरलतम उपाय....
8
8
9
विश्व में ऐसे सैंकड़ों लोग हुए हैं जिन्होंने भविष्य के घटनाक्रम और परिवर्तन को लेकर कई भविष्यवाणियां की हैं। बहुतों की भविष्यवाणियां सही साबित हुई है तो बहुतों की गलत। जिनकी भविष्यवाणियां सही साबित हुई है उसके सही साबित होने के कई कारण हैं।
9
10
हर देवता को कोई विशेष प्रसाद पंसद होता है । आइए जानें दिलचस्प जानकारी
10
11
हर दिन की रंगोली का अपना-अपना महत्व है। यदि आप श्रद्धा से रंगोली बनाते हैं,तो उससे क्या लाभ मिलता है? उसका क्या महत्व है? आइए उसके बारे में जानकारी लें-
11
12
तंत्र शास्त्र के अनुसार नवग्रहों की स्थिरता के लिए कुछ सरल और सुलभ उपाय बताए गए हैं। जिनको अपने जीवन में अपनाने से ग्रह नहीं पहुंचाएंगे नुकसान और देंगे वरदान।
12
13
गौमती चक्र समृद्धि, खुशी, अच्छा स्वास्थ्य, धन, मन की शांति और बुरे प्रभावों से बचाता है। रोग के इलाज़ में सहायता, अधिक चेतना, बेहतर भक्ति, समाज में प्रतिष्ठा, वित्तीय विकास, एकाग्रता, व्यापार वृद्धि और पूजा की शक्ति देने में बहुत सहायक है।
13
14
जन्म की अंग्रेजी तारीख, जन्म का अंग्रेजी महीना और अंग्रेजी सन् तीनों की विविध संख्याओं को जोड़कर संयुक्त अंक या भाग्यांक बनाया जाता है।
14
15
किसी भी मंदिर में प्रवेश करते समय एक बड़ा घंटा या कई घंटियां बंधी होती हैं। मंदिर में प्रवेश करने वाला प्रत्येक भक्त पहले घंटानाद करता है और फिर मंदिर में प्रवेश करता है। क्या कारण है इसके पीछे? दरअसल इसके वैज्ञानिक कारण हैं... .
15
16
ताजा शोध नतीजे बताते हैं कि हवन वातावरण को प्रदूषण मुक्त बनाने के साथ ही अच्छी सेहत के लिए जरूरी है। हवन के धुएँ से प्राण में संजीवनी शक्ति का संचार होता है।
16
17
कहते हैं कि नास्त्रेदमस ने हिन्दू धर्म के उत्‍थान और एक महान नेता के उदय की भविष्यवाणी की है। उपरोक्त भविष्यवाणियों को कई लोगों से जोड़कर देखा जाता है लेकिन यदि गहराई से देखें तो यह भविष्यवाणी अभी तक पूरी नहीं हुई है। हमने उक्त भविष्यवाणियों के ...
17
18
फ्रांस में 14 दिसंबर, 1503 को जन्मे नास्त्रेदमस ने अपनी भविष्‍यवाणी की पुस्तक प्रॉफेसीज (prophecies) में कई तरह की भविष्यवाणी की है जिसमें से कुछ के सच होने का दावा किया जाता है तो कुछ भविष्‍यवाणियों के भविष्य में घटित होने का दावा किया जाता है। ...
18
19
शुभं करोति कल्याणम् आरोग्यम् धनसंपदा। शत्रुबुद्धिविनाशाय दीपकाय नमोऽस्तु ते।। अवश्य पढ़ना चाहिए। निश्चित ही आपका कल्याण होगा। दीप प्रज्वलन के समय इस मंत्र का स्मरण करें :
19